जासं, फरीदाबाद: बिजली की किल्लत से परेशान होकर विधायक सीमा त्रिखा के निवास पर प्रदर्शन करने पहुंचे ग्रीन फील्ड के 18 निवासियों को हिरासत में लेकर हवालात में बंद करने का मामला तूल पकड़ रहा है। इस मामले में एनआइटी-5 थाना प्रभारी सुभाष कुमार पर गाज गिर सकती है। सोमवार को कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने अपने निवास स्थान पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि थाना प्रभारी को जवाब तलब किया गया है। मंत्री गोयल ने बताया कि डीजीपी से फोन करके प्रभारी को लाइन हाजिर करने के लिए भी कहा है। साथ ही थाना प्रभारी से अब तक इस मामले की रिपोर्ट भी मांगी गई है। भाजपा के जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा ने भी इस मामले को गलत ठहराया। उन्होंने कहा कि जनता ने अपना मत देकर उन्हें प्रतिनिधि बनाया है और जनता की समस्याएं सुनना उनका कर्तव्य है। इस संबंध में उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला को पत्र लिखा है और इस मामले में संज्ञान लेने का अनुरोध किया है। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को ग्रीन फील्ड के निवासी देर रात बिजली समस्या लेकर विधायक सीमा त्रिखा के निवास प्रदर्शन करने पर पहुंचे थे। थोड़ी देर बाद ही पुलिस को मौके पर पहुंची और 18 लोगों को उठाकर हवालात में बंद कर दिया। उनके खिलाफ शांति भंग करने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। इस मामले के चलते ग्रीन फील्ड कॉलोनी के निवासियों में काफी रोष है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस