फरीदाबाद, जागरण संवाददाता। दिल्ली से सटे हरियाणा के बल्लभगढ़ में निकिता हत्याकांड में सियासत गरमाई हुई है। इस बीच विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार (Alok Kumar, International Executive President of Vishwa Hindu Parishad) ने शुक्रवार सुबह अपना घर सोसायटी पहुंचकर निकिता के परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान आलोक कुमार ने निकिता के पिता मूलचंद तोमर को न्याय का दिलासा दिया।

इस मौके पर विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि इस्लामिक जिहाद के खिलाफ फ्रांस और भारत की एक जैसी लड़ाई। मेवात में पिछले एक हफ्ते में 6 घटनाएं ऐसी सामने आई हैं जो लव जिहाद से जुड़ी हैं। आलोक कुमार ने कहा कि धर्मांतरण और लव जिहाद के खिलाफ कानून जरूरी है। फरीदाबाद में लव जिहाद में मारी गई निकिता के परिवार को सांत्वना देने पहुंचे आलोक कुमार ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद लव जिहाद के खिलाफ लड़ाई को निर्णायक अंजाम तक पहुंचाने को संघर्ष जारी रखेगी।

आलोक कुमार ने कहा कि एक प्रतिभावान और आसमान छूने की उमंग रखने वाली लड़की इस्लामिक जिहादियों के हाथों मार दी गई। इस पर धैर्य करना कठिन ही है। इस अवसर पर निकिता के परिजन और अन्य नजदीकी रिस्तेदार भी थे। घर से बाहर निकल कर पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि इस्लामो-फासिस्ट जिहादियों की कार्रवाई से विश्वभर में सभ्य समाज की अभिव्यक्ति की आजादी, मानव की गरिमा और जीवन संकट में आ रहे है। सबको इसका मिलकर मुकाबला करना होगा।

क्षेत्र में बढ़ती लव-जिहाद धर्मांतरण तथा हिन्दू उत्पीड़न की घटनाएं बेहद चिंतनीय हैं। आखिर कितनी बेटियां इन हिन्दू द्रोही जिहादी मानसिकता की शिकार होती रहेंगी? उन्होंने मांग की कि बेटी के परिजनों को एक करोड़ का मुआवजा सरकार तुरंत दे तथा लव-जिहाद व जबरन या छल पूर्वक धर्मांतरण पर पूर्ण प्रतिबंध हेतु सरकार एक कठोर कानून बनाए।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021