बल्लभगढ़, जेएनएन। गांव अटाली के शहीद संदीप सिंह की वीरांगना को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या में राष्ट्रपति भवन में शौर्य चक्र से सम्मानित करेंगे। शौर्य चक्र दिए जाने की घोषणा स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर रक्षा मंत्रालय की तरफ से की गई है। शौर्य चक्र मिलने की खबर सुन कर परिजनों और गांव के ग्रामीणों में संदीप सिंह की शहादत पर गर्व की अनुभूति महसूस की है।

ग्रामीणों ने कहा शहादत को मिला सम्‍मान
ग्रामीणों ने कहा कि सरकार ने शहीद को उनकी शहादत के अनुसार सम्मान भी दिया है। प्रदेश सरकार की तरफ से 31 लाख रुपये और केंद्र सरकार की तरफ से डेढ़ लाख रुपये दिए जाएंगे। शहीद संदीप सिंह 10 पैरा कमांडो थे।

आतंकी मुठभेड़ में दो को किया था ढेर
उनकी 12 फरवरी को पुलवामा में सर्च अभियान के तहत आतंकवादियों से मुठभेड़ हुई थी। इस दौरान उन्होंने दो आतंकवादियों को मार दिया। जब वे उन्हें मार कर वापस लौट रहे थे, तब ही आतंकवादियों ने उन पर पीछे से वार कर दिया। इस दौरान वे गंभीर रूप से घायल हो गए और उनका काफी खून बह चुका था।

पत्‍थरबाजों ने घेरा वाहन
जब उनके साथी अपने वाहन से संदीप सिंह को श्रीनगर अस्पताल लेकर जा रहे थे, तो पत्थरवाजों ने वाहन को घेर लिया और तीन घंटे तक नहीं निकलने दिया। उन्हें श्रीनगर के बेस अस्पताल में भर्ती कराया, जहां पर उन्होंने 19 फरवरी को अपने प्राण देश के ऊपर कुर्बान कर दिए।

रक्षा मंत्रालय ने की शौर्य चक्र देने की घोषणा
अब रक्षा मंत्रालय ने उनके पराक्रम को देखते हुए शौर्य चक्र देने की घोषणा की है। मुझे अपने बेटे की शहादत पर गर्व है। उनके पराक्रम को देखते हुए सरकार ने शौर्य चक्र देने की घोषणा की है। 

पिता नयनपाल कालीरमन ने कहा शौर्य चक्र बहुत कम शहीदों को मिलता है। उन्होंने पूरे देश में अपना और जिले का नाम रोशन किया है।

वीरांगना गीता ने कहा कि मेरे पति देश की रक्षा की खातिर शहीद हुए। मुझे अपने पति पर गर्व है। हमारे पास में सैनिक बोर्ड से 14 अगस्त को टेलीफोन आया था कि सरकार ने संदीप सिंह को शौर्य चक्र देने की घोषणा की है। शौर्य चक्र गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर दिया जाएगा। 

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप