फरीदाबाद, जागरण संवाददाता। औद्योगिक नगरी से साइबर सिटी गुरुग्राम के लिए प्रस्तावित मेट्रो को सिरे चढ़ाने के प्रयास तेज हो गए हैं। बुधवार को इस दिशा में विधायक सीमा त्रिखा, फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सुधीर राजपाल और अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी (एसीईओ) डॉ. गरिमा मित्तल ने प्रस्तावित रूट का निरीक्षण किया। विधायक और अधिकारियों ने बाटा से हार्डवेयर चौक, प्याली चौक, अनाज मंडी रोड, मस्जिद, जमाई कालोनी, गुरुग्राम रोड और फिर पाली तक का निरीक्षण किया।

बाटा मेट्रो स्टेशन से लेकर पाली चौक पर प्रस्तावित मेट्रो रूट को देखते समय इस पर फिर बारीकी से नजर डाली गई कि राह में कोई अड़चन तो नहीं है। इस परियोजना का रूट फाइनल होने के साथ ही औद्योगिक नगरी को साइबर सिटी से मेट्रो के जरिए कनेक्ट करने पर काम शुरू हो जाएगा। बता दें मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बड़खल रैली में वर्ष 2016 में विधायक सीमा त्रिखा के आग्रह पर गुरुग्राम और फरीदाबाद के बीच मेट्रो चलाने की घोषणा की थी। इसके बाद डीएमआरसी से इसकी डीपीआर तैयार करवाई गई थी।

फरीदाबाद से गुरुग्राम के बीच 32.14 किलोमीटर लंबा रूट होगा। इस पर कुल 11 स्टेशन प्रस्तावित किए गए हैं। इनमें से पांच फरीदाबाद और छह स्टेशन गुरुग्राम में होंगे। फरीदाबाद में बाटा मेट्रो स्टेशन से यह रूट जोड़ा जाएगा। इसके बाद प्याली चौक और फिर मस्जिद चौक पर स्टेशन बनेंगे। पाली और फिर मांगर चौक पर मेट्रो स्टेशन बनाया जाना प्रस्तावित है। आगे गुरुग्राम में छह मेट्रो स्टेशन बनाए जाएंगे। 9 मेट्रो स्टेशन एलिवेटेड और दो भूमिगत होंगे। इस परियोजना पर कुल 5900 रुपये खर्चा होने का अनुमान लगाया गया है।

यह भी पढ़ेंः जानिए क्यों एक्ट्रेस जूही चावला को वापस लेनी पड़ी याचिका, हाई कोर्ट ने लगाया था 20 लाख जुर्माना

यह भी पढ़ेंः Yoga Health Benefits: मानसिक शांति में मददगार है योग, इन आसनों से मिलेगा विशेष फायदा

 

Edited By: Jp Yadav