जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : यूपी में अवैध हथियारों के बड़े सप्लायर का गुर्गा ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर रविवार रात राजकीय रेलवे पुलिस के हत्थे चढ़ा है, उसका एक साथी भागने में सफल रहा। पकड़े गए बदमाश से नौ पिस्टल व 18 मैगजीन बरामद हुईं। उसकी पहचान गांव तीतरवाडा शामली यूपी निवासी शोएब अली के रूप में हुई। पूछताछ में उसने पुलिस को बताया है कि वह इंदौर मध्यप्रदेश से ये हथियार ट्रेन के जरिए ला रहा था। हथियार उसे शामली में रहने वाले बड़े सप्लायर तक पहुंचाने थे। सभी पिस्टल देसी हैं और 32 बोर की हैं, और बिल्कुल नई हैं।

गणतंत्र दिवस के मद्देनजर रेलवे पुलिस इस मामले को गंभीरता से ले रही है। पूरे मामले की जांच के लिए डीएसपी महेंद्र वर्मा ने एसआइटी का गठन कर दिया है। आरोपित को पांच दिन की रिमांड पर लिया है। यूपी में जिस सप्लायर को हथियार पहुंचाए जाने थे, उसकी गिरफ्तारी के लिए एक टीम रवाना हो गई है। ओल्ड फरीदाबाद रेलवे थाना प्रभारी ओमप्रकाश ने बताया कि समता एक्सप्रेस जब ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर आकर रुकी, तो शक के आधार पर आरोपित की तलाशी ली गई। उसके पिट्ठू बैग में पिस्टल व मैगजीन का जखीरा था। उसने बताया कि साथ में उसका चाचा भी था, मगर वह पुलिस को देखकर फरार हो गया।

शोएब ने बताया है कि वह शामली क्षेत्र में एक अवैध हथियार सप्लायर के लिए काम करता है। इंदौर से काफी आगे वह सुनसान जगह से एक व्यक्ति से पिस्टल लेकर आया था। वह पहले भी कई बार वहां से पिस्टल लाकर शामली में हथियार सप्लायर को दे चुका है। इस कार्य के लिए उसे 20 से 25 हजार रुपये मिलते हैं। हथियार सप्लायर इन पिस्टलों को आगे 25 से 30 हजार रुपये में बेचता है। पकड़ा गया बदमाश हथियार सप्लायर का गुर्गा है। जो हथियारों को लाने ले जाने का काम करता है। वह जहां से हथियार लाता है और जहां देता है उनके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है। रिमांड के दौरान उससे गहराई से पूछताछ की जाएगी।

-महेंद्र वर्मा, डीएसपी, राजकीय रेलवे पुलिस

Posted By: Jagran