जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : ग्रेटर फरीदाबाद में मास्टर रोड की हालत बेहद खराब है। कई साल से लोग सड़कों को बनाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन सुनवाई नहीं हो सकी है। अब इन जर्जर सड़कों को बनाने की बजाए केवल मास्टर रोड के चौराहे चकाचक किए जा रहे हैं। जबकि चौराहों से चंद कदम दूरी पर गड्ढे हैं। इन गड्ढों की ओर ध्यान नहीं दिया गया है।

एक और ध्यान देने वाली बात है कि अब मास्टर रोड एफएमडीए के पास आ गई है लेकिन चौराहों की मरम्मत का कार्य हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण द्वारा किया जा रहा है, क्योंकि प्राधिकरण द्वारा चौराहों की मरम्मत का टेंडर पहले ही छोड़ा जा चुका था। सवाल खड़ा होता है कि जब चौराहों की मरम्मत की जा रही है तो जर्जर सड़क को इसमें क्यों शामिल नहीं किया गया। कम से कम चौराहों के नजदीक जर्जर सड़क व गड्ढे तो दुरुस्त कर देने चाहिए थे। इसे लेकर सोसायटीवासी व आसपास रहने वाले ग्रामीणों में रोष है।

सेक्टर-89, पार्कलैंड निवासी सुमेर खत्री, पंकज पाराशर ने बताया कि कई मास्टर रोड तो चलने लायक नहीं हैं। कई बार हादसे हो चुके हैं। लाइटें ठीक नहीं हैं। कई बार शिकायतें दी, लेकिन समाधान नहीं हो सका। ग्रीवेंस कमेटी में भी यह मुद्दा उठाया था। उपमुख्यमंत्री ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। अब नगर योजनाकार विभाग के अधिकारी सतर्क दिखाई दे रहे हैं, पर राहत नहीं मिल सकी है। मास्टर रोड एफएमडीए के पास जाने से पहले ही एचएसवीपी चौराहों को दुरुस्त करने का टेंडर छोड़ चुका था। अब इसी काम को पूरा किया जा रहा है। मास्टर रोड की मरम्मत एफएमडीए करेगा।

-राजीव शर्मा, अधीक्षण अभियंता, एचएसवीपी मास्टर रोड की मरम्मत की जाएगी। इसके लिए सर्वे हो चुका है। जल्द टेंडर प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

-जगदीश कुमार, कार्यकारी अभियंता, एफएमडीए

Edited By: Jagran