जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : बेहतर कार्य करने वाले 19 पुलिस कर्मियों को खेल मंत्री संदीप सिंह ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर सम्मानित किया। इनमें महिला थाना एनआइटी में तैनात सईद अहमद और एसआइ ममता ने नाबालिग लड़की से दुष्कर्म मामले में घटनास्थल का निरीक्षण कर आरोपित को उसी रात 1 बजे गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले में 10 दिन के अंदर चालान तैयार कर सराहनीय कार्य किया। सेक्टर-30 में तैनात सिपाही मनोज कुमार ने सेक्टर-15 मार्केट में बैंक के अंदर हुई लूट मामले को तत्परता से सुलझाने में अहम योगदान दिया। हत्या व लूट की अनेक वारदात को सुलझाने में उनकी अहम भूमिका रही। क्राइम ब्रांच बदरपुर बार्डर में तैनात सिपाही सुशील कुमार ने अवैध हथियारों के सप्लायर हरीश को पकड़ने में अहम भूमिका निभाई। आरोपित के पास से आठ देसी पिस्तौल बरामद हुई थी। एएसआइ राजबीर ने हत्या के आठ मामलों को सुलझाने में सराहनीय कार्य किया।

क्राइम ब्रांच सेक्टर-30 में तैनात एएसआइ अश्वनी ने गुलेल से कारों के शीशे तोड़कर अंदर सामान चोरी करने वाले आरोपित को सीसीटीवी फुटेज और अन्य सूत्रों की मदद से गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपित से 100 से अधिक वारदात सुलझाई गईं। क्राइम ब्रांच ऊंचा गांव में तैनात सिपाही रहीश ने बादशाह खान अस्पताल से पुलिस हिरासत से फरार हुए दुष्कर्म के आरोपित को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार करने में अहम भूमिका निभाई। इसके अलावा एक दिन में तीन वारदात करने वाले कातिया गिरोह के तीन बदमाशों को भी गिरफ्तार किया। बल्लभगढ़ बस अड्डा पुलिस चौकी में तैनात एसआइ उमेश कुमार ने कोविड-19 महामारी के दौरान आमजन को जागरूक करने का सराहनीय कार्य किया। पुलिस आयुक्त कार्यालय में तैनात एसआइ ब्रह्म ने कार्यकुशलता एवं ईमानदारी से चार पुलिसकर्मियों की सर्विस बुक अपडेट करने में अहम भूमिका निभाई। पुलिस चौकी सेक्टर-15ए में तैनात एएसआइ कमलचंद ने तीन नाबालिग बच्चियों को अपनी सूझबूझ और कार्यकुशलता से बरामद किया। पल्ला थाने में तैनात एएसआइ अनीता ने बहला-फुसलाकर ले जाई गई चार किशोरियों को बरामद किया और आरोपितों को गिरफ्तार किया। सराय ख्वाजा थाने में तैनात हेड कांस्टेबल जसविदर ने तीन महीने के अंदर अवैध शराब, जुआ, अवैध हथियार, नशा तस्करी के 35 से अधिक आरोपितों को गिरफ्तार किया। सूरजकुंड थाने में तैनात एसआइ मनोज कुमार और सिपाही राकेश कुमार सेक्टर-46 में आग लगने पर तुरंत घटनास्थल पर पहुंची और जान जोखिम में डालकर अपार्टमेंट में फंसे बुजुर्ग व एक बच्चे को सुरक्षित बाहर निकाला। सेक्टर-58 थाने में तैनात एएसआइ रमेश चंद्र ने साल 2021 के दौरान चोरी, दुष्कर्म व नशा तस्करी के 24 मामलों को सुलझाया। साइबर थाने में तैनात सिपाही संदीप और सिपाही आजाद ने साइबर के 26 मुकदमे सुलझाने में अहम योगदान दिया। महिला थाना बल्लभगढ़ में तैनात एसआइ बबीता ने दुष्कर्म के दो मामलों में आरोपितों को वारदात के दिन ही गिरफ्तार करने का कार्य किया। सेक्टर-11 पुलिस चौकी में तैनात एसआइ प्रदीप और सिपाही मान सिंह ने रामनगर झुग्गी में आग लगने के दौरान अपाहिज दंपती को सुरक्षित बाहर निकाला।

Edited By: Jagran