जागरण संवाददाता, फरीदाबाद: पाली क्रशर जोन में चार महीने पहले दो मुंशियों को बंधक बनाकर हुई लूट की वारदात क्राइम ब्रांच सेंट्रल ने सुलझा ली है। क्राइम ब्रांच ने लूट करने वाले चार बदमाशों को कट्टा, कारतूस व सरिया के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपितों में दिल्ली निवासी दीपक उर्फ मोटा, सुनील और गांव पाली निवासी रोहित व अमित शामिल हैं। क्राइम ब्रांच ने आरोपितों को लूट की एक अन्य योजना बनाते हुए डबुआ क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। यह था पूरा मामला :

11 अगस्त की रात पाली क्रशर जोन के क्रशर नंबर 56ए के कार्यालय में मुंशी सुमन और पवन बैठे थे। रात करीब दो बजे चार युवक पिस्टल व चाकू लेकर कार्यालय में घुस आए। उनमें से तीन मास्क लगाए हुए थे, एक ने हेलमेट पहना था। उन्होंने पिस्टल व चाकू के बल पर पवन और सुमन को बंधक बना लिया। शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद अलमारी में रखे 1.27 लाख रुपये निकाल लिए। कार्यालय में रखे चार मोबाइल ले लिए। आरोपित पवन और सुमन को धमकी देकर फरार हो गए। बदमाश मोटरसाइकिल और स्कूटी पर सवार होकर आए थे। पहले भी लूट व झपटमारी कर चुके हैं आरोपित:

क्राइम ब्रांच के मुताबिक आरोपितों ने 5 अगस्त को सराय ख्वाजा में झपटमारी की थी। वहीं 6 अप्रैल को उन्होंने डबुआ क्षेत्र में लूट की वारदात की थी। आरोपित नशा करने के आदी हैं। उसकी पूर्ति के लिए लूट व झपटमारी करते हैं। मुख्य आरोपित दीपक पेशेवर अपराधी है। वह कई बार तिहाड़ जेल में सजा काट चुका है। दीपक अभी जमानत पर जेल से बाहर आया हुआ था। आरोपित योजनाबद्ध तरीके से वारदात करते थे और लूट की रकम आप में बांट लेते थे। क्राइम ब्रांच आरोपितों को रिमांड पर लेकर अन्य वारदात के संबंध में पूछताछ करेगी।

Edited By: Jagran