जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : करीब डेढ़ महीना पहले केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के प्रेस कालोनी कैंप प्रभारी मुकेश कुमार की ओर से नगर निगम को पत्र लिख कर आसपास के क्षेत्र में सफाई की मांग की गई थी। कालोनी के बाहर ही एक बड़ा नाला है, जो गंदगी से अटा पड़ा है। बाहर कई जगह बारिश का पानी जमा है। यहां न नगर निगम ने सफाई की और न ही स्वास्थ्य विभाग की ओर से एंटी लार्वा एक्टिविटी शुरू की गई।

इस बीच कैंप में रहने वाले 150 जवानों में से 15 जवान बुखार की चपेट में आ गए। प्रेस कालोनी कैंप में रह रहे इन जवानों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

मुकेश कुमार ने बताया कि जवानों की तबीयत अब पहले से बेहतर है, पर जब नगर निगम में सुनवाई नहीं हुई, तो नाले की सफाई का काम उन्होंने खुद अपने स्तर पर शुरू करवाया है। अर्थमूवर मंगवा कर सफाई करवाई जा रही है।

जिन क्षेत्रों में बारिश का पानी जमा है। वहां एंटी लार्वा एक्टिविटी चल रही है। हम अपनी टीम सीआइएसएफ कैंप में भेजेंगे और आसपास के क्षेत्र में एंटी लार्वा एक्टिविटी चलाई जाएगी। नगर निगम से भी बातचीत की जाएगी। जरूरत पड़ी, तो वहां फागिग करवाएंगे।

- डा. रामभगत, जिला मलेरिया अधिकारी

कुछ दिनों पहले हमने नालों की सफाई करवाई थी। हार्डवेयर चौक के प्रेस कालोनी नाले की मौजूदा स्थिति देखने के लिए मौके पर एसडीओ को भेजा जाएगा। कोई कमी है, तो उसे दूर किया जाएगा।

-रामजी लाल, मुख्य अभियंता, नगर निगम

Edited By: Jagran