जासं, फरीदाबाद: तिगांव भुआपुर मोड़ निवासी राजपाल के बेटे हंस उर्फ वंश की हत्या करने वाले पवन को क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने अदालत में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। पुलिस ने आरोपित पवन को रिमांड पर लेने की अर्जी नहीं लगाई थी। पुलिस के अनुसार आरोपित से घटना के समय पहने हुए कपड़े बरामद कर लिए हैं। घटनास्थल पर खून से सनी हुई ईंट पहले ही बरामद हो चुकी है। आरोपित अपना जुर्म कबूल कर चुका है। इसके अलावा आरोपित दिव्यांग भी है। इसलिए और कुछ पूछताछ नहीं होनी थी। इसलिए उसका रिमांड नहीं लिया गया। बता दें डीएलएफ की टीम ने हंस उर्फ वंश की हत्या के आरोप में उसके चचेरे भाई पवन को सोमवार गिरफ्तार किया था। पवन ने चाचा राजपाल की हरकतों से परेशान होकर हंस की हत्या की थी। हत्या 23 अगस्त को की गई थी लेकिन हंस का शव 25 अगस्त को बरामद किया गया था। यह मामला तिगांव थाने में दर्ज किया गया था।

Posted By: Jagran