जागरण संवाद केंद्र, फरीदाबाद : तेजी से विकसित हो रहे ग्रेटर फरीदाबाद को पर्याप्त बिजली मिलेगी। उसके लिए हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम (एचवीपीएन) के अधीक्षण अभियंता ने मंगलवार को एक योजना बना कर उसे स्वीकृति के लिए भेज दिया है। योजना के तहत अगले पांच साल की बसावट के हिसाब से 15 नए विद्युत सब स्टेशन तैयार किए जाने हैं। कुल 650 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

इस क्षेत्र में 2,017 तक 400 केवी का एक, 220 केवी के तीन और 66 केवी के 11 सब स्टेशन बनाए जाने की योजना है।

ग्रेटर फरीदाबाद में इस समय करीब एक हजार से अधिक परिवार रहते हैं। दीपावली तक एक हजार परिवार और आबाद हो सकते हैं। इसी अनुपात में अगले तीन वर्षो में करीब पांच हजार परिवारों के आबाद होने की उम्मीद है। सेक्टर 64 से लेकर 74 तक आइएमटी व सेक्टर 75 से 89 तक रिहायशी इलाका विकसित हो रहा है। बिजली विभाग की मानें, तो पांच साल बाद यहां 900 मेगावाट बिजली की खपत होगी। इस समय पॉवर बैकअप अच्छा न होने से बिजली संकट उत्पन्न हो सकता है। इसलिए योजना तैयार कर उसे हुडा को सौंप दिया गया है। हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड के अधीक्षण अभियंता एमसी त्यागी ने बताया कि आने वाले समय में नहर पार क्षेत्र में बिजली की खपत बढ़ेगी। इसलिए लोगों को बिजली की किल्लत से जूझना न पड़े, उसके लिए यह योजना बनाई गई है। योजना के मुताबिक, 2,017 तक सब स्टेशनों को तैयार कर लिया जाएगा।

ग्रेटर फरीदाबाद में खपत के अनुसार बिजली की व्यवस्था करने के लिए हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम की पहल का स्थानीय बिल्डरों ने स्वागत किया है। उद्यमी सुभाष गुप्ता का कहना है कि ग्रेटर फरीदाबाद में आइएमटी भी बन रही है। इसलिए यहां बिजली के लिए समय रहते व्यवस्था होनी चाहिए।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप