मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

फरीदाबाद, जागरण संवाद केंद्र:

ग्रेटर फरीदाबाद में बनने वाले मास्टर रोड का टेंडर जीआर गावर कंस्ट्रक्शन कंपनी के नाम छोड़ा गया है। जल्द ही मास्टर रोड का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

मास्टर रोड की 225.98 करोड़ रुपये के टेंडर के लिए चार कंपनियों का चयन गया था। केसी बिल्डकोन, जीआर गावर कंस्ट्रक्शन कंपनी, रेनका और एमवीएल इफ्रास्ट्रक्चर कंपनी के नाम मंजूरी के लिए हुडा मुख्यालय भेजे गए थे, लेकिन जीआर गावर कंस्ट्रक्शन कंपनी का चयन मास्टर रोड के निर्माण के लिए किया गया है।

मालूम हो कि सरकार ने ग्रेटर फरीदाबाद में 52 किलोमीटर लंबा मास्टर रोड बनाने के लिए 19 गांवों की 1029 एकड़ भूमि अधिग्रहीत की है, लेकिन किसानों के विरोध के चलते सरकार इसमें से 31 किलोमीटर मास्टर रोड के लिए भूमि पर कब्जा ले सकी है। हालांकि, सरकार ने 52 किलोमीटर मास्टर रोड के लिए 398 करोड़ रुपये की मंजूरी दी थी। ग्रेटर फरीदाबाद में 15 नए सेक्टर विकसित हो रहे हैं। निजी कालोनाइजर भी यहां कालोनियां विकसित कर रहे हैं। इसलिए हुडा ने इन सेक्टर और कालोनियों को आपस में जोड़ने के लिए मास्टर रोड की महत्वाकांक्षी योजना तैयार की थी, लेकिन हुडा 31 किलोमीटर मास्टर रोड के लिए ही जमीन पर कब्जा ले सका है। हुडा प्रशासक अमनीत पी कुमार ने बताया कि शेष 21 किलोमीटर के लिए भी जल्द ही भूमि कब्जे में ली जाएगी। किसान अधिग्रहित की गई भूमि पर बिजाई न करें, क्योंकि हुडा जल्द ही कब्जा लेने की प्रक्रिया शुरू करने वाला है। किसान अपने ट्यूबवेलों से बिजली कनेक्शन कटवा दें, ताकि किसानों को अन्यथा बिजली बिल जमा न कराना पड़े। हुडा उनका भी मुआवजा दे चुका है। मास्टर रोड के संदर्भ में हुडा प्रशासक के नेतृत्व में बैठक होने वाली है। हुडा प्रशासक अमनीत पी कुमार ने बताया कि कम पैसे में टेडर लेने वाली कंपनी का मुख्यालय द्वारा चयन किया गया है। मास्टर रोड के लिए गांव बड़ौली, प्रहलादपुर, मिर्जापुर, बसेलवा, सिही, वजीरपुर, खेड़ी कलां, खेड़ी खुर्द, भतौला, पलवली, मवई, टिकावली, बादशाहपुर, नीमका, सेहतपुर माजरा, बुढ़ैना, फरीदपुर, भूपानी और मुर्तजापुर के रकबे की भूमि अधिग्रहित की गई है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप