जागरण प्रतिनिधि, फरीदाबाद :

ग्रेटर फरीदाबाद के सेक्टर-78 में फ्लैट देने के नाम पर एक निवेशक से लाखों रुपये हड़पने के आरोप में मैसर्स त्रिवेणी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कंपनी के अधिकारियों के खिलाफ थाना भूपानी पुलिस ने धोखाधड़ी का एक और अभियोग दर्ज किया है, लेकिन आरोपी गिरफ्त से बाहर हैं।

इस मामले की शिकायत सेक्टर-दो हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी झमनलाल ने की है। शिकायतकर्ता ने वर्ष 2006 में सेक्टर-78 में फ्लैट खरीदने के लिए मैसर्स त्रिवेणी इंफ्रास्ट्रक्चर डवलपमेंट कंपनी प्रबंधन से मिला था। कंपनी ने उससे फ्लैट के नाम पर अलग-अलग समय पर 9,19,425 रुपये लिए थे। आरोप है कि कंपनी ने न तो फ्लैट दिया और न ही पैसे लौटाए। इस बारे में कई बार कंपनी प्रबंधन से शिकायत की गई, लेकिन कंपनी प्रबंधन ने शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया। इस कारण आज तक शिकायतकर्ता अपने पैसे लेने के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहा है। शिकायतकर्ता ने जिला नगर योजनाकार में भी शिकायत की। कंपनी के निदेशक सुमित मित्तल, मधुर मित्तल, प्रबंधक बीएन गुप्ता, फाइनेंस व कोर्डिनेशन एडवाइजर ब्रिजेश पाहूजा, कोर्डिनेशन कंट्रोलर डायरेक्टर टिंकू उजवाल, वरिष्ठ महाप्रबंधक मार्किटिंग मनीष खन्ना, सेल्स एक्जीक्यूटिव राजन गुप्ता, को-ऑर्डिनेटर अजय कुमार के खिलाफ पुलिस से शिकायत की है। शिकायत के आधार पर पुलिस ने इन सभी के खिलाफ धोखाधड़ी व जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कर लिया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप