जागरण संवाद केंद्र, फरीदाबाद : हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (हुडा) ने तेजी से आबाद हो रहे ग्रेटर फरीदाबाद में बेहतर जलापूर्ति के लिए कवायद शुरू कर दी है। 97 करोड़ रुपये की लागत से यहां के लोगों की प्यास बुझाई जाएगी। इसके लिए हुडा ने छह नए रैनीवेल लगाने का टेंडर अलाट कर दिया है।

हुडा ने ग्रेटर फरीदाबाद में सेक्टर-75 से 89 तक 15 नए सेक्टर बसाए हैं, साथ ही ग्रुप हाउसिंग सोसायटी भी तैयार हो रही हैं। ग्रेटर फरीदाबाद में मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराने की जिम्मेवारी हुडा की है। इसके चलते ग्रेटर फरीदाबाद में विकास की योजनाओं के क्रियान्वयन की प्रक्रिया तेज हो गई है। क्षेत्र में जलापूर्ति के लिए छह रेनीवेल लगाने की योजना तैयार की गई है। रेनीवेल कुएं लगवाने का टेंडर मैसर्स केदारनाथ खंडेलवाल के नाम छोड़ा जा चुका है। टेंडर 97 करोड़ रुपये के जारी किए गए हैं। यमुना नदी से सटे गांव ददसिया व मंझावली के बीच कुएं लगाए जाएंगे। एक कुएं की क्षमता दो मिलियन गैलन पानी हर रोज आपूर्ति करने की है, जबकि इन छह कुओं से हर रोज 15 मिलियन गैलन पानी की आपूर्ति की जाएगी।

हुडा प्रशासक एनके सोलंकी का कहना है कि रेनीवेल के लिए जमीन तलाश की जा रही है और लोगों को स्वच्छ व बेहतर जलापूर्ति की जाएगी।

हर रोज 20 मिलियन गैलन पानी की आपूर्ति

हालांकि हुडा ने रैनीवेल प्रोजेक्ट के तहत गांव ददसिया में ट्यूबवेल व रैनीवेल लगाए हुए हैं। चार रेनीवेल और 32 ट्यूबवेलों से 20 मिलियन गैलन पानी की हर रोज आपूर्ति की जा रही है। यह पानी फिलहाल नगर निगम व हुडा क्षेत्र में सप्लाई किया जा रहा है।

भूमिगत जलस्तर बनाए रखने की भी है योजना

भूमि का जलस्तर बरकरार रहे इसके लिए हुडा की योजना है कि वर्षा जल का संचयन किया जाए। बारिश का पानी नालियों व सीवर में बह कर बेकार न चला जाए। उसे बचाने के लिए पार्को में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाया जाएंगे। इसके साथ ही जिन स्थानों पर ट्यूबवेल लगाए जाएं वहां भी वाटर हार्वेस्टिंग की भी व्यवस्था की जाएगी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप