जागरण संवाद केंद्र, फरीदाबाद : हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (हुडा) मास्टर रोड के निर्माण के लिए अभी चार एकड़ और भूमि अधिग्रहण करेगा। मास्टर रोड के निर्माण में चार एकड़ भूमि अड़चन बनी हुई है, इसलिए हुडा ने भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

हुडा नहरपार सेक्टर-75 से 89 तक 15 नए सेक्टर विकसित कर रहा है। इन सेक्टरों में बेहतर कनेक्टिविटी के लिए मास्टर रोड का निर्माण किया जा रहा है। हुडा ने मास्टर रोड निर्माण के लिए 19 गांवों की लगभग 1029 एकड़ भूमि अधिग्रहण की थी। हुडा द्वारा प्रथम चरण में 31 किलोमीटर लंबा मास्टर रोड बनाया जा रहा है। इसके लिए जब भूमि अधिग्रहण की गई थी, उस दौरान निशानदेही करते वक्त पटवारियों की लापरवाही के कारण कुछ खामियां रह गई थी। इस कारण मास्टर रोड के निर्माण में गांव मुर्ताजापुर, नीमका, भतौला, मवई और गांव खेड़ी कलां के पास दिक्कत आ रही है। हालांकि इन सभी गांवों के आसपास हुडा ने भूमि अधिग्रहण की थी। हुडा के भूमि अर्जन अधिकारी (शहरी संपदा विभाग) की ओर से उक्त गांवों के आसपास भूमि अधिग्रहण के लिए धारा चार लगा दी गई है। इसका मतलब है कि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

हुडा के उपमंडल अधिकारी राजीव कुमार शर्मा ने बताया कि मास्टर रोड का निर्माण कार्य सुचारू रूप से जारी रहे, इसके लिए मास्टर रोड के निर्माण में बाधा बन रही भूमि को जल्द ही अधिग्रहण कर लिया जाएगा।

मास्टर रोड की चौड़ाई कम होने के आसार

ग्रेटर फरीदाबाद सेक्टर-86 के पास मास्टर रोड की चौड़ाई कम होने के आसार है, क्योंकि एक बिल्डर का डेवलपमेंट प्लान मास्टर रोड से टकरा गया है। इस कारण हुडा के सामने मास्टर रोड को एक समान चौड़ाई रखने की दिक्कत पैदा हो गई है। इस संदर्भ में हुडा अधिकारियों ने नगर योजनाकार को प्रस्ताव भेजकर उचित समाधान निकालने का आग्रह किया है।

मास्टर रोड के बीच में एक नामी बिल्डर का डेवलपमेंट प्लान आ गया है। उसने अपने प्लान के आधार पर सड़क के बीच में चारदीवारी बना दी है। इससे यहां 45 मीटर चौड़ी सड़क सिर्फ 30 मीटर बच रही है।

जिला नगर योजनाकार संजीव मान का कहना है कि फिलहाल उनके पास इस संदर्भ में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन नक्शा में आज भी मास्टर रोड की चौड़ाई 45 मीटर है। उच्च अधिकारियों के स्तर पर कोई बात हो सकती है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर