जागरण संवाददाता, भिवानी:

सरपंच की शादी में हेलीकाप्टर आना गांव वासियों के लिए दोहरी खुशी लेकर आया। एक तो गांव में पहली बार हेलीकाप्टर देख कर गांव वाले खुश थे वहीं दूसरी खुशी यह थी कि गांव की दो एकड़ शामलात जमीन पर बने अवैध कब्जे हट गए। वह इसलिए हटे कि इस जमीन पर हेलीकाप्टर की लैं¨डग कराई गई थी। गांव में जब पहली बार हेलीकाप्टर आने का रिकार्ड बन रहा था ग्रामीणों ने खुशी खुशी शामलात जमीन को भी खुद ही खाली कर दिया।

गांव खरक खुर्द के सरपंच संदीप परमार शादी 17 फरवरी को हुई। शादी समारोह में हेलीकाप्टर ग्रामीणों के लिए आकर्षण का केंद्र बना था। गांव में पहली बार हेलीकाप्टर उतरा तो बच्चे बड़े सब उसे देखने के लिए पहुंच गए। सरपंच संदीप परमार ने बताया कि उसकी शादी गुरुग्राम के गांव हरसरू में हुई है। खरक से बारात लेकर वह अपनी ससुराल हरसरू गढ़ी हेलीकॉप्टर से पहुंचे। धर्मपत्नी चंचल परमार के साथ वापस अपने गांव पहुंचे तो गांव की महिला, बच्चे छोटे बड़े सब जुट गए और उनको बधाई देने लगे। सरपंच ने बताया कि उन्होंने हेलीकाप्टर किराए पर नहीं लिया बल्कि उनके दोस्त शशी बाक्सर ने यह उनकी शादी में भेजा था।

अवैध कब्जे हटने पर अब नहीं देना होगा 25 हजार रुपये किराया

सरपंच संदीप ने बताया कि गांव के युवाओं को खेलने के लिए मैदान नहीं था। गांव के समीप ही गांव पालुवास की जमीन खेलने के लिए मैदान के रूप में किराए पर ले रखा था। इस जमीन का हर साल 25 हजार रुपये किराया देना पड़ता था। अवैध कब्जे हटने के बाद अब उनके अपने गांव की दो एकड़ जमीन समतल हो गई है और युवाओं को इस मैदान में खेलने का मौका मिलेगा। अब इसके लिए हर साल 25 हजार रुपये किराया भी नहीं देना पड़ेगा।

ग्रामीणों ने नवविवाहित सरपंच दंपति को दी बधाई

हेलीकाप्टर में दुल्हन को लेकर पहुंचे सरपंच संदीप को उनके पिता दलेल ¨सह परमार के अलावा परिवार ओर गांव के बड़े बुजुर्गों ने आशीर्वाद दिया। कांग्रेस नेता संदीप तंवर, गांव के ही डा. बृजपाल पप्पू, पंडित राजकुमार, संदीप खरकिया, विरेंद्र ¨सह वाल्मीकि, धीरज खरकिया, विकास सरपंच, बीडीसी बिट्टू शर्मा, ठाकुर रणजीत ¨सह, सोनू तंवर पालुवास, र¨वद्र धानक आदि ने नव विवाहित जोड़े को बधाई दी आशीर्वाद दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस