जागरण संवाददाता, भिवानी : उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने कहा कि बेहतरीन ढंग से कार्य करने वाले अधिकारी सम्मान के हकदार हैं। उनको सम्मान मिलेगा, लेकिन काम में निष्क्रियता बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्रवाई भी की जाएगी। उपायुक्त आर्य वीरवार को लघु सचिवालय स्थित डीआरडीए सभागार में ई-ऑफिस और अंत्योदय व सरल की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को जरूरी निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि नागरिकों को सरकार की योजनाओं का लाभ मिले। इसी के चलते सरकार द्वारा ऑनलाइन सेवाएं शुरू की गई हैं, जो सरल व अंत्योदय सरल के माध्यम से दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन सेवाओं के माध्यम से लोग घर बैठे योजनाओं की जानकारी व उनका लाभ ले रहे हैं। लोगों को समबद्ध ढंग से सुविधाएं मिलनी चाहिए। बैठक के दौरान सीएमजीजीए आयुष सिघल ने ई-ऑफिस, सरल व अंत्योदय की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की। इस दौरान नगराधीश हरबीर सिंह, डीआइओ पंकज बजाज, जिला समाज कल्याण अधिकारी केएल भारद्वाज और उप सिविल सर्जन डा. कृष्ण कुमार आदि मौजूद थे। अंत्योदय व सरल में जिला की रैंक पहुंची 21वें से 7वें स्थान पर

उपायुक्त ने बताया कि अंत्योदय व सरल में जिला की रैंक में काफी सुधार हुआ है। नवंबर माह में जिला की रैंक 21वें स्थान पर थी, वहीं अब यह सातवें स्थान पर आ गई है। जिला के स्कोर 6.4 से बढ़कर 9.4 हो गया है। उन्होंने और अधिक त्वरित ढंग से सेवाएं प्रदान करने को कहा। बेहतर कार्य करने वाले अधिकारियों का किया सम्मान

उपायुक्त आर्य ने ई-ऑफिस प्रक्रिया से तेजी से कार्य करने पर तोशाम के एसडीएम मनीष फौगाट, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी राम अवतार शर्मा, जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक अनिल कालड़ा, श्रम विभाग से सहायक निदेशक शैलेश अहलावत का प्रशंसा पत्र देकर सम्मान किया। वहीं दूसरी ओर उपायुक्त ने ई-ऑफिस की लचर कार्यप्रणाली के चलते भवन एवं लोक निर्माण विभाग, पंचायत विभाग, पुलिस विभाग और स्वास्थ्य विभाग को सख्त निर्देश दिए कि वे विभागों की फाइलों का ई-प्रणाली के तहत निपटारा करें।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021