जागरण संवाददाता, चरखी दादरी : हमने देश की आजादी की लड़ाई में तो भाग नहीं लिया, लेकिन अब जबकि भारत स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है तो देश को साफ-सुथरा बनाने में हम सहयोग दे सकते हैं। हमारे मन में राष्ट्रभक्ति की भावना सर्वोपरि होनी चाहिए। यह बात दादरी जिला की सत्याग्रह से स्वच्छताग्रह रथ यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते हुए उपायुक्त प्रदीप गोदारा ने कही। यह रथयात्रा दादरी, बौंद, झोझू व बाढड़ा खंड के गांवों में स्वच्छता का अलख जगाएगी। इससे पहले लघु सचिवालय के सभागार में आजादी के अमृत महोत्सव स्वच्छताग्रह का आयोजन किया गया। उपायुक्त ने कहा कि गांव हमारा साफ-सुथरा रहेगा तो लोगों का स्वास्थ्य भी बेहतर होगा। गांव को साफ करने के लिए एक व्यक्ति या केवल प्रशासन नहीं बल्कि सभी ग्रामवासियों को मिलकर प्रयास करने होंगे। लोगों को प्लास्टिक और पालिथिन का प्रयोग बंद कर देना चाहिए। इनका इस्तेमाल नहीं करेंगे तो निर्माण स्वत: ही बंद हो जाएगा। हर नागरिक खुद को रो वेस्ट बनाने का प्रयास करना चाहिए। 15 अगस्त 2022 तक जारी रहेगी मुहिम

इस अवसर पर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुशल कटारिया ने कहा कि सत्याग्रह से स्वच्छताग्रह नाम से नया अभियान पूरे भारतवर्ष में चलाया जा रहा है। स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ पर शुरू किए गए आजादी के अमृत महोत्सव में गांवों को गंदगी मुक्त बनाने की यह मुहिम 15 अगस्त 2022 तक जारी रहेगी। सफाई कर्मी, सामाजिक कार्यकर्ता सम्मानित

कार्यक्रम में जिला के प्रत्येक खंड से दो सफाई कर्मचारी और सामाजिक कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया गया। उपायुक्त ने विशेष रूप से बाढड़ा खंड के जागरूक नागरिक सुभाष को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया, जो अपने घर में गीला और सूखा कूड़ा अलग-अलग रखते हैं। जिला आयोजना अधिकारी दीवान सिंह ने मुख्य अतिथि का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर नगराधीश अमित मान, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी सुभाष शर्मा, रोशनलाल श्योराण, मनरेगा लोकपाल वेदपाल सांगवान, स्वच्छता मिशन के जिला प्रभारी विरेंद्र हुड्डा, अनुष्मा, जसवीर, संजय, भूपेंद्र देव, नवीन शर्मा, सविता, ग्रामीण आजीविका मिशन से रश्मि शर्मा इत्यादि उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran