जागरण संवाददाता, चरखी दादरी : एसवाइएल नहर निर्माण का मामला हरियाणा प्रदेश के वर्तमान व भविष्य से जुड़ा है। इनेलो इस मामले पर संसद व संसद के बाहर लगातार संघर्ष कर रही है। इनेलो नहर निर्माण व इसमें हरियाणा के हिस्से के पानी के लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार है। यह बात पूर्व विधायक व दादरी जिले के प्रभारी राव बहादुर ¨सह ने बाढड़ा हलके के गांव कलाली, रामलवास, जावा, रुदड़ौल, कादमा सहित डेढ़ दर्जन गांवों में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार चुनाव पूर्व किए गए अपने वायदों को पूरा करने मे नाकाम साबित हुई है। एसवाइएल निर्माण पर कांग्रेस व भाजपा सदैव दोहरा रवैया अपनाती रही है जिसके चलते सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के बाद हरियाणा को उसके हक का पानी नहीं मिल सका है। 7 मार्च को दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में ज्यादा से ज्यादा संख्या मे पहुंचने का आह्वान किया। जिला प्रधान नरेश द्वारका ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था चरमरा गई है। आए दिन हत्या, डकैती, लूटपाट व बलात्कार जैसी घटनाएं घट रही है। इस अवसर पर नरेश द्वारका, विजय प्रकाश चीफ, महेन्द्र शास्त्री, दरियाव ¨सह एडवोकेट, सज्जन बलाली, विजय सांगवान मन्दोला, राजेश सांगवान झोझू, ऋषिपाल उमरवास, रिसाल ¨सह धनासरी, राजेन्द्र हूई, भूपमांढी, बिरेन्द्र बडराई, डा. ओमप्रकाश यादव, कैलाश शर्मा पालड़ी, आनन्द बडराई, धर्मवीर बडराई, रामोतार बाढडा, सत्यपाल आर्यनगर, सरजीत चांगरोड़,कबूल जावा, रामफल कादमा, सतेन्द्र दातोली, राकेश दुधवा, हरपाल हंसावास, दिनेश मांढी, विकास जेवली सुशील कलाली, रविन्द्र रामबास रवि राणा, नरेश पूनियां, अजय शर्मा,नरेन्द्र सिहागं, रमेश कादमा इत्यादि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस