स्वास्थ्य विभाग घर घर जाकर कर रहा जागरूक

जागरण संवाददाता, चरखी दादरी :

चरखी दादरी जिले में स्वाइन फ्लू पर पूर्णतय अंकुश नहीं लग पा रहा है। सुविधाओं व जागरूकता के अभाव में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पिछले दो दिनों के अंतराल में स्वाइन फ्लू के तीन और अन्य केसों की पुष्टि हुई है। अब तक जिले में स्वाइन फ्लू के 6 मरीजों की पॉजिटिव रिपोर्ट आ चुकी है। जबकि पिछले दिनों स्वाइन फ्लू से प्रभावित एक मरीज की मौत हो चुकी है। इसके अलावा दो अन्य केस संभावित पाए गए हैं, जिनकी स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांच की जा रही है। इससे स्वास्थ्य विभाग में हडकंप मचा है। पहले से ही जारी अलर्ट को लेकर एहतियाती उपाय शुरू कर दिए गए हैं। विभाग द्वारा टीमें गठित करके घर-घर मरीजों को दवाइयां दी जा रही हैं। पिछले कई दिनों से वातावरण में हुए बदलाव के बाद स्वाइन फ्लू का जिले में कहर बढ़ता जा रहा है। जिसके कारण लोगों में भय का माहौल है। दादरी जिले में अब तक 6 मरीजों को स्वाइन फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा दादरी जिले के एक मरीज की मौत की पुष्टि की गई है। अब पॉजिटिव केसों में दो दादरी शहर व एक बाढड़ा के गांव काकड़ोली में एक महिला शामिल है। इसके अलावा दो संभावित मरीजों की भी स्वाइन फ्लू की जांच की जा रही है। स्वाइन फ्लू को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा दादरी के सरकारी अस्पताल में स्पेशल वार्ड बनाया गया है। जिसमें स्वाइन फ्लू से निपटने के लिए सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं। वहीं स्पेशल टीमें घर-घर मरीजों की जांच कर दवाइयां वितरित कर रही हैं। जिन मरीजों को स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है, उनको व उनके परिवार के सदस्यों को दवाइयां दी जा रही हैं।

बाक्स :

दो दिनों में तीन पॉजिटिव केसों की पुष्टि

स्वास्थ्य विभाग की डिप्टी सीएमओ डा. मुनेश ने बताया कि स्वाइन फ्लू को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है। पूरा विभाग इस समय अलर्ट मोड पर है। दो दिनों के अंतराल में जिले में तीन केस स्वाइन फ्लू के पाजिटिव केसों की पुष्टि हो चुकी है। जिनमें दो केस दादरी शहर व एक केस बाढड़ा के गांव काकड़ोली सरदारा का है।

बाक्स

स्वाइन फ्लू के लक्षण

1. बुखार, खांसी, जुकाम, गले में सूजन, सिर व मांसपेशियों में दर्द

2. थकान, उल्टी आना

3. सीनें दर्द व सांस लेने में कठिनाई, नाखूनों का नीला पड़ना

बाक्स

स्वाइन फ्लू से बचाव के तरीके

1. अधिक भीड़भाड़ वाले इलाके में जाने से बचें

2. बातचीत करते समय तीन फूट की दूरी बनाकर रखें, अनावश्यक हाथ मिलाने से परहेज करें

3. संक्रमित व्यक्ति से दूर रहें

4. दिन में कई बार साबुन से हाथ धोएं तथा खूब पानी पिएं

5. पौष्टिक भोजन खाएं तथा भरपूर नींद लें

6. घर के आसपास गंदगी न होने दें, सफाई का विशेष ध्यान रखें

7. कोई भी दवा चिकित्सक की सलाह के बिना न लें

8. ¨छकते, खांसते समय मुंह, नाक पर रूमाल अथवा टीसू पेपर का प्रयोग करें

नोट : लंबी बीमारी से ग्रसित रोगी, पांच वर्ष से कम आयु के बच्चे व 65 वर्ष से अधिक आयु के लोग, गर्भवती महिलाओं के प्रति विशेष सावधानियां बरतनी चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस