जागरण संवाददाता, चरखी दादरी : केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 की शुरूआत की जा चुकी है। दादरी नगर परिषद द्वारा इस बार भी स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लिया जा रहा है। इस बार होने वाला स्वच्छ सर्वेक्षण 6000 के बजाय 7500 अंकों का होगा। स्वच्छ सर्वेक्षण को तीन श्रेणियों में बांटा गया है। जिसमें 3000 अंक सर्विस लेवल प्रोग्रेस, 2250 अंक सर्टिफिकेशन तथा 2250 अंक आपदा, महामारी से निपटने की तैयारियां तथा सिटीजन वाइस के लिए निर्धारित किए गए हैं। स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में दादरी शहर को बेहतर रैंकिग दिलवाने के लिए नगर परिषद को सर्विस लेवल प्रोग्रेस व सर्टिफिकेशन की श्रेणी में और अधिक काम करना होगा। वहीं नागरिक भी सिटीजन वाइस श्रेणी के तहत अधिक से अधिक भागेदारी कर रैंकिग में सुधार करवा सकेंगे। स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 में सर्विस लेवल प्रोग्रेस के लिए तीन हजार अंक निर्धारित किए गए हैं। जबकि वर्ष 2021 में हुए सर्वे में सर्विस लेवल प्रोग्रेस के तहत दो हजार अंक थे। इस श्रेणी में 900 अंक सस्टेनेबल सैनिटेशन तथा सफाई मित्र सुरक्षा, 900 अंक गीला व सूखा कचरा अलग-अलग एकत्रित करने तथा 1200 अंक कचरे के प्रसंस्करण और निस्तारण के लिए निर्धारित किए गए हैं। सिटीजन वाइस में बुजुर्ग निभाएंगे अहम भूमिका

स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 में सिटीजन वाइस श्रेणी के तहत 600 अंक निर्धारित किए गए हैं। इनमें 200 अंक युवाओं पर तथा 400 अंक सीनियर सिटीजन पर निर्भर रहेंगे। सर्वे के तहत एक जनवरी से 28 फरवरी 2022 तक नागरिकों से फीडबैक लिया जाएगा। जिसमें फेस टू फेस, माइ जीओवी वेबसाइट, वोट फोर योर सिटी पोर्टल, 1969 हेल्पलाइन, क्यूआर कोड पर आधारित फीडबैक, स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 पोर्टल तथा स्वच्छता एप के जरिए नागरिकों से फीडबैक लिया जाएगा। सिटीजन वाइस के तहत 15 से 29 वर्ष की आयु के युवाओं से 10 सवाल पूछे जाएंगे। इनमें से चार का सही जवाब देने पर 200 अंक मिलेंगे। वहीं शहर के वरिष्ठ नागरिकों से तीन श्रेणियों में 400 अंक के लिए सवाल पूछे जाएंगे। वैक्सीनेशन के भी मिलेंगे नंबर

स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 में कोविड-19 महामारी के मद्देनजर सफाईकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स के वैक्सीनेशन, जीवन बीमा इत्यादि पर आधारित अंक भी दिए जाएंगे। इसमें 95 फीसद से अधिक फ्रंटलाइन वर्कर्स का वैक्सीनेशन होने पर 50 अंक, 95 फीसद से अधिक कर्मचारियों का जीवन व स्वास्थ्य बीमा होने पर 30 अंक, आपदा-महामारी से निपटने के लिए कर्मचारियों के प्रशिक्षण पर 30 अंक दिए जाएंगे। शहर को स्वच्छ रखना सभी की जिम्मेवारी : सचिव

दादरी नगर परिषद के सचिव प्रशांत पराशर का कहना है कि स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 में दादरी को बेहतर रैंक दिलवाने के लिए नप अधिकारी व कर्मचारी प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि नागरिक भी स्वच्छ सर्वेक्षण में भाग लें तथा फीडबैक जरूर दें। सचिव प्रशांत ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि शहर को साफ-सुथरा रखना सभी की जिम्मेवारी है। सभी लोग कम से कम कचरा बाहर निकालें। नागरिक गीले कचरे को पेड़-पौधों में खाद के रूप में प्रयोग करें और सूखे कचरे को नगर परिषद के वाहनों या फिर कूड़ेदान में ही डालें।

Edited By: Jagran