जागरण संवाददाता, भिवानी (बहल) : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला व पूर्व मुख्यमंत्री चौ. भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर भी खूब कटाक्ष किए। उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश में दो पार्टियों की आया राम गया राम की सत्ता रही है। जिसमें चौटाला गया हुड्डा आया तथा हुड्डा गया चौटाला आया। चौटाला आया गुंडई लाया और हुड्डा आया तो जमीन घोटाले लाया। लेकिन मनोहर सरकार के दौरान न तो घोटाले हुए और न ही गुंडई आई। भाजपा के शासनकाल में भ्रष्टाचार खत्म हुआ है। प्रदेश में विकास का दौर शुरू हुआ जिसमें सभी वर्गों व समूचे प्रदेश में समान रूप से विकास कार्य हुए। गृहमंत्री ने मंच के माध्यम से प्रदेश के हुड्डा, चौटाला और भजनलाल पर परिवारवाद की राजनीति को बढ़ावा देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि देश की एकता व अखंडता के साथ खिलवाड़ करने वाले को भाजपा की सरकार कतई माफ नहीं करेगी और उनकी जगह जेल में होगी। हरियाणा प्रदेश में भाजपा 75 पार करके सरकार बनाने की स्थिति में है और इसमें लोहारू व तोशाम भी शामिल होकर रहेगा। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं गृहमंत्री अमित शाह लोहारू व तोशाम विधानसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन मांगते हुए कहा कि गृहमंत्री ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल की कार्यशैली को सराहा और कहा कि उनके नेतृत्व में हरियाणा में भ्रष्टाचार खत्म हुआ है। शाह ने मंच से किया एलान, तोशाम का किला ढहाना है

गृहमंत्री अमित शाह ने तोशाम के किले को ध्वस्त करने का समर्थन मांगा, जिसे लोगों ने हाथ उठाकर समर्थन दिया और मोदी-मोदी के नारे लगाए। बैकड्रॉप से गायब थी सांसद की फोटो, बनी चर्चा

वहीं मंच पर लगे (बैकड्राप) बैनर में भिवानी-महेन्द्रगढ़ के सांसद धर्मबीर सिंह की फोटो न लगी होना रैली में चर्चा का विषय बना हुआ था। सांसद समर्थकों को इस अनदेखी का कारण समझ में नहीं आया। इसके अलावा मंच के बैनर पर दोनो हलकों के प्रत्याशियों की फोटो लगी हुई थी, लेकिन संबोधन के लिए लगाए दोनों लेक्चर स्टैंड पर सिर्फ जेपी दलाल की फोटो लगी हुई थी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस