जागरण संवाददाता, भिवानी : सालों से बदहाली में जी रहे सेक्टरवासियों को राहत मिलने की उम्मीद जग गई है। वर्षो से सीवरेज सिस्टम खराब होने के कारण गंदा पानी खाली प्लाटों में ही बह रहा है। साथ ही सेक्टर में करीब चार जगह पर सीवरेज लाइन भी बैठ गई हैं। हालात खराब होने के कारण सेक्टर एसोसिएशन लगातार इसको ठीक करवाने के लिए मांग उठा रहे हैं। अब हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (एचएसवीपी) समस्या को ठीक करने जा रहा है। सभी लाइनों को ठीक करने के साथ सही तरह से फ्लो बन सके इसका इंतजाम किया जाएगा। एचएसवीपी करीब 90 लाख रुपये का टेंडर लगाने जा रहा है।

एचएसवीपी की तरफ से सेक्टर 13 और 23 को बसाया गया है। दो सेक्टर होने के बावजूद विभाग उनकी सही तरह से देखरेख नहीं कर पा रहा है। सीवरेज समस्या से परेशान सेक्टरवासी लगातार सालों से सिस्टम ठीक करने की मांग उठा रहे थे। सेक्टर एसोसिएशन ने पिछले दिनों कष्ट निवारण समिति की बैठक में भी मंत्री के समक्ष यह मुद्दा उठाया तो इसके समाधान के आदेश हुए थे। विभाग की तरफ से पूरी तरह से जांच करने के बाद सामने आया कि सीवरेज की लाइन करीब चार जगह से बैठ गई हैं। इसमें ग्रीन बेल्ट, जिमखाना क्लब के पास, शापिग सेंटर के पास आदि अनेक जगह है। इससे सीवरेज की सीवरेज लाइन से गंदे पानी का सही तरह से फ्लो नहीं बन पाता। एसटीपी की लाइन तक भी पानी नहीं पहुंच रहा है जिससे सीवरेज भरे रहते हैं और गंदा पानी बाहर बहता है। सेक्टरवासियों की समस्या को दूर करने और लाइन को ठीक करने के लिए विभाग की तरफ से 90 लाख रुपये खर्च किए जा रहे हैं। पंपिग स्टेशन पर उठाया जा सकेगा दूषित पानी

सेक्टर में दूषित पानी को एसटीपी की लाइन तक पहुंचाने के लिए पंपिग स्टेशन भी लगाया गया है। लेकिन लाइन के खराब होने के कारण पंपिग स्टेशन भी सही तरह से काम नहीं कर पाता। मशीन भी लगाई गई है जिससे कम पानी पंप हो पाता है। लाइन को सही करने के साथ दूषित पानी की पंपिग होगी तो पानी लाइन में नहीं भरेगा। दोनों सेक्टरों में हैं 2,600 घर

एचएसवीपी की तरफ से सेक्टर 13 को 1992-93 में बसाया था। उसके बाद सेक्टर 23 को बसाया गया। अभी दोनों सेक्टर करीब 2600 घर हैं। इन सेक्टरों में सीवरेज लाइन उसी समय डाली गई थी। लेकिन सेक्टरवासियों के अनुसार लाइन सही तरह से आजतक नहीं चल पाई है। सीवरेज का पानी बहता ही रहता है। एसटीपी लाइन तक नहीं पहुंचता पानी

सेक्टरवासियों की माने तो उनके सेक्टर की सीवरेज लाइन एसटीपी लाइन से सही तरह से नहीं जुड़ी है। पानी निकासी नहीं होने के कारण एसटीपी की लाइन में गंदा पानी नहीं जा पाता। इसके कारण वह हमेशा ओवरफ्लो होकर बहता रहता है। बाक्स.

सीवरेज के बंद होने की समस्या सेक्टरवासियों की हमेशा के लिए ठीक हो जाएगी। लाइन को ठीक करने के साथ गंदे पानी की निकासी का फ्लो सही हो जाएगा। सेक्टरवासियों के प्लाट में भी पानी नहीं भरेगा।

- धर्मबीर, एसडीओ, एचएसवीपी।

Edited By: Jagran