जागरण संवाददाता, चरखी दादरी: गांव घिकाड़ा की सक्षम क्लासेज में अध्ययनरत दादरी क्षेत्र के प्रतिभाशाली छात्र मयंक लेघा ने जयपुर के एमएनआईटी परिसर में

सेंट्रल विश्वविद्यालय के बैनर तले आयोजित साइंस कनक्लेव में अपनी प्रतिभा को दर्शाते हुए राष्ट्रीय स्तर पर क्षेत्र के नाम को रोशन किया है। इस आयोजन में देश भर के अलग अलग 14 राज्यों से आए बाल वैज्ञानिकों ने अपने हुनर को दर्शाया था। मंयक लेघा ने अपने माडल वाटर वेंडिग मशीन के माध्यम से हुनर दर्शाते हुए इस आयोजन में देश भर से आए हुए प्रसिद्ध शिक्षाविदों एवं बुद्धिजीवों को आकर्षित किया व सभी की सराहना पाई। मयंक ने बताया कि उसने मैट्रो स्टेशन पर हो रही पानी की बर्बादी को देखते हुए विचार आया कि इसे रोका जाना आवश्यक है। जिस के बाद के बाद उसने अपने शिक्षकों के मार्गदर्शन एवं परिजनों के सहयोग से इस काम में जुट गया। यह

मॉडल चिप आधारित स्मार्ट कार्ड के माध्यम से जरूरत अनुसार पानी निकालता है। इसमें मौजूद ताप नियंत्रक ठंडा व गर्म दोनों पानी उपलब्ध करवाते हुए जल की शुद्धता को भी सुनिश्चित करता है। सक्षम क्लासेज निदेशक दिनेश सांगवान मंयक लेघा को बधाई देते हुए कहा कि वह और उनकी संस्था भविष्य में भी इसी प्रकार होनहारों की प्रतिभाओं को तराश कर आगे बढ़ाती रहेगी। प्रतिभाशाली विद्यार्थी एवं उसके परिजनों को क्षेत्र के मौजिज व्यक्तियों ने बधाई देते हुए उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

Posted By: Jagran