संवाद सहयोगी, लोहारू: किसान मजदूर शोषण मुक्ति मोर्चा के वरिष्ठ उपप्रधान पृथ्वी सिंह गोठड़ा के खिलाफ दर्ज सरकारी कार्य में बाधा डालने के मुकदमे को निरस्त करने की मांग की गई। मोर्चा की बैठक सोमवार को शास्त्री पार्क में हुई। इसमें निर्णय लिया कि पुलिस इस मुकदमे को दस दिन में रद करे और गत वर्ष खरीदी सरसों की बकाया धनराशि का भुगतान करे। यदि इस दौरान ये दोनों मांगें नहीं मानी गई तो वे पुन: पंचायत करके कठोर निर्णय लेंगे।

किसान भैयराम की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद मोर्चा के पदाधिकारियों ने डीएसपी गजेंद्र सिंह को इस बारे में ज्ञापन सौंपा। उन्होंने बताया कि गत वर्ष सरकारी समर्थन मूल्य पर खरीदी गई सरसों के भुगतान के मामले पर वे गत सप्ताह हैफेड के प्रबंधक के पास गए थे। वहां उन्होंने यही मांग की थी कि उनकी लाखों रुपयों की सरसों का भुगतान कराया जाए, लेकिन इसके बावजूद मैनेजर ने उन्हीं के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने और डराने-धमकाने का मुकदमा दर्ज कर दिया। इसलिए पुलिस इस मामले को दस दिन में रद करे और सरसों के बकाया रुपये का तत्काल भुगतान करे। यदि दस दिन में ये दोनों मांगें पूरी नहीं की तो पुन: पंचायत करके कठोर निर्णय लिया जाएगा। इसके लिए लोहारू हैफेड के प्रबंधक और एसएचओ जिम्मेदार होंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021