जागरण संवाददाता, भिवानी: हनुमान जोहड़ी मंदिर धाम स्थित श्रीराम वाटिका में मनतारी देवी के स्मृति दिवस पर पौधारोपण किया। इस दौरान विशेष सानिध्य बाल योगी महंत चरण दास महाराज का रहा। महंत चरण दास महाराज ने कहा कि पहले संयुक्त परिवार होते थे। उस समय परिवार में दादी और पड़दादी की बहुत बड़ी भूमिका होती थी, लेकिन अब धीरे-धीरे परिवार टूटने लगे, जिसके चलते संयुक्त परिवार की परिभाषा सिमटती जा रही है। उनका स्थान एकल परिवारों ने ले लिया है, जोकि बड़ी चिता का विषय है। लेकिन कुछ परिवार ऐसे हैं जो संयुक्त परिवार की परिभाषा को आज भी जिदा रख रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति अपने दादा दादी पड़दादी इनका मान सम्मान रखते हैं, उनको याद रखते हैं वह जीवन में कभी नहीं टूटते,क्योंकि बुजुर्गों का आशीर्वाद प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप में परिवार पर बना रहता है। उन्होंने कहा कि मंतारी देवी के स्मृति दिवस पर उनके परिजनों ने स्वच्छ पर्यावरण के लिए उनकी याद में पौधारोपण किया है। यह बड़े गर्व की बात है। इस अवसर पर ध्यानदास महाराज,समाजसेवी सुरेंद्र लोहिया ,विक्रम कुमार, पंकज कुमार , विजय कुमार,अनिल कांगड़ा , राष्ट्रीय युवा पुरस्कार अवार्डी अशोक कुमार भारद्वाज मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021