मदन श्योराण, ढिगावा मंडी : क्षेत्र में इन दिनों गेहूं कटाई का कार्य जोरों पर है और किसान परिवार कटाई व कढ़ाई में दिन-रात जुटे हुए हैं। इसी बीच किसानों के फोन पर अनाज मंडी में गेहूं लाने का मैसेज भी आ रहा है। इससे किसान बड़ा चितित था। इसी बीच सरकार ने फसल खरीद की प्रक्रिया में एक बार फिर बदलाव किया है। इसके तहत ई-खरीद पोर्टल पर जाकर किसान अब अपनी इच्छानुसार अपनी नजदीकी मंडी में गेहूं ले जाने का दिन तय कर सकेंगे। सरकार की ओर से इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं।

कुछ दिन पहले ही उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा था कि मंडियों में खरीद किसान के अनुसार होगी ना कि सरकार के अनुसार। मार्केट कमेटी के अधिकारी संजय कुमार ने बताया कि ई-खरीद पोर्टल में फेरबदल किया गया है, अब किसान के हाथ में है कि वह अब दिन खुद निश्चित कर सकता है कि कब उनको अनाज मंडी में गेहूं की फसल को ले जाना है। ई-पोर्टल पर जाकर किसान अपनी सुविधा अनुसार दिन निश्चित कर सकता है।

जन नायक सेवादल के राष्ट्रीय महासचिव वजीर मान ने उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का आभार प्रकट किया और कहा कि उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला हमेशा से ही किसान हितैषी रहे हैं। उन्हें पता है कि किसान इस समय गेहूं की कटाई में लगा हुआ है। इस कारण किसान बार-बार फोन में मैसेज नहीं देख सकता और पोर्टल के अनुसार अपनी फसल को मंडी में भी नहीं ला सकता। अब सब कुछ किसान के हाथ में है वह अपनी मर्जी से अपनी सुविधा अनुसार मंडी में गेहूं ला सकता है। उन्होंने कहा कि दुष्यंत चौटाला ने पहले ही कहा था कि मंडिया किसान के अनुसार चलेंगी ना कि सरकार के अनुसार। क्षेत्र के सुरेंद्र नेहरा, धर्मपाल नायक, धीर सिंह नेहरा, राजेंद्र बड़दू, संदीप श्योराण, बलवान कारी, विजय कुमार आदि किसानों ने ई पोर्टल पर किसान को अपने हिसाब से मंडी में गेहूं लाने की मिली छूट पर सरकार का आभार जताया।

Edited By: Jagran