भिवानी, [सुरेश मेहरा]। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की स्वच्छता की अपील से प्रेरित होकर भिवानी की चार महिलाओं ने खुद स्वच्छता अभियान चलाया और आज उनकी पूरे देश में जय-जय हो रही है। चारों को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर गुजरात में होने वाले कार्यक्रम में प्रधानमंत्री सम्मानित करेंगे। इन चारों महिलाओं ने जब अभियान शुरू किया तो लोग उनके जुनून को लोग पागलपन समझते थे। लोग कहते थे कि ये तै पगला गई हैं। लेकिन आज सब उनकी सराहना करते नहीं थकते।

ये चार महिलाएं है चौ. बंसीलाल विश्वविद्यालय में सोशल वर्क विभाग में कार्यरत सहायक प्रोफेसर गीतिका मल्होत्रा, ग्राम पंचायत बोहल में आंगनबाड़ी वर्कर मीनू देवी, सोशल वर्कर एवं छात्रा सुमन देवी गांव कारी मोद और गांव ऊण के राजकीय प्राथमिक पाठशाला में कार्यरत अध्यापिका रेणिका मलिक।

यह भी पढ़ें : पुलिस कर्मचारियों ने चलाया लाइन में स्वच्छता अभियान

स्वच्छता अभियान चलाने वाली गीतिका और सुमन

गीतिका की मेहनत ने किया कमाल

प्रोफेसर गीतिका मल्होत्रा अपने विभाग के छात्र छात्राओं के साथ के साथ गांव-गांव जाती हैं। लोगों को जागरूक करती हैं। गांव की गलियों से कचरा साफ करवाती हैं। उनसे प्रेरणा पाकर अब कई गांवों के लोग खुले में शौच नहीं जाते।

सुमन ने दिखाई नई राह

गांव कारी मोद के सरपंच सूबे सिंह की बेटी सुमन एमएम की छात्रा हैं। उन्होंने पिता को इतना मोटीवेट किया कि गांव को ओडीएफ बनाने के लिए उन्होंने कर्ज तक ले लिया। इतना ही नहीं इसके बाद गांव को स्वच्छ बनाने के लिए बेटी और पिता ने संकल्प लिया और उसे पूरा किया। अब पूरा गांव सरपंच की बेटी के साथ है और उनका गांव स्वच्छ भारत मिशन की कामयाबी की मिसाल बना है।

मीनू और रेणिका के प्रयास से बदली गांव की तस्वीर

मीनू ने बदल दी ग्रामीणों की सोच

बतौर आंगनबाड़ी वर्कर मीनू देवी ने जब स्वच्छता पर गांव में काम करना शुरू किया तो लोगों को विश्वास नहीं हो रहा था। हालांकि उनकी मुहिम में उन्हें गांव की महिलाओं से सहयोग मिला। उनका जुनून देखकर अन्य लोग भी प्रेरित हुए और आगे आए। मीनू के साथ मिलकर सब लोगों ने गांव को साफ-सुथरा बना दिया। इस ग्राम पंचायत के अंतर्गत कुल 365 परिवार रहते है और सभी ग्रामीण मीनू और उनके अभियान की सराहना करते हैं।

यह भी पढ़ें : कैडेट्स ने रेजांगला स्मारक की सफाई

रेणिका के साथ आए विद्यार्थी

गांव ऊण के राजकीय प्राथमिक पाठशाला की अध्यापिका ने रेणिका मलिक ने स्वच्छता अभियान चलाया तो स्कूल के विद्यार्थी ने उनका साथ दिया। वह लगभग पांच माह पहले इस स्कूल में आई थी। स्वच्छता के प्रति उनकी मेहनत और लगन ने स्कूल के साथ-साथ गांव को भी साफ सुथरा बना दिया। अब दूसरे गांवों के सरपंच और अध्यापक भी उनके यहां भ्रमण के लिए आते हैं और उनकी तारीफ करते हैं।

हम गौरन्वावित हैं

भिवानी के अतिरिक्त उपायुक्त धीरेंद्र खडगटा ने कहा कि भिवानी की चार महिलाओं का अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस समारोह के लिए चयन होने पर हम गौरवान्वित हैं। इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्य अतिथि होंगे।

यह भी पढ़ें : स्वच्छता अभियान को लेकर निगम की ओर से गोष्ठी

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस