संवाद सहयोगी, बाढड़ा :

सांसद धर्मबीर ¨सह ने भारत सरकार की संसदीय सुरक्षा समिति सदस्य के तौर पर सांसदों व रक्षा अधिकारियों के साथ चेन्नई के रक्षा प्रतिष्ठानों का दौरा किया। सांसद ने दक्षिणी हरियाणा के भिवानी, दादरी व नारनौल जैसे जिलों में रक्षा सुविधाओं के विस्तार क्षेत्र में चर्चा की। धर्मबीर ¨सह के अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र, पूर्व जनरल बीसी खंडूरी सहित दर्जन भर सांसदों व रक्षा अधिकारियों के एक दल ने चेन्नई स्थित रक्षा प्रतिष्ठान केंद्रों पर पहुंच कर भारतीय सेना के मौजूदा हालात व नए प्रारुप पर गंभीरता से चर्चा की। सांसद धर्मबीर ¨सह ने कहा कि भारतीय आर्मी को और मजबूत बनाने के मामले में यह दल समय समय पर सीमा व अंदर बने रक्षा प्रतिष्ठानों के दौरे पर है। आज आर्मी में हो या खेल दोनों क्षेत्रों में हरियाणा की भागीदारी अव्वल स्थान पर है। सेना को अब बड़े शहरों के अंदर रक्षा प्रतिष्ठान बनाने की बजाए दक्षिणी हरियाणा के भिवानी, दादरी, झज्जर, नारनौल जैसे जिलों में नए केंद्र स्थापित करने चाहिए क्योंकी वहां पर जमीन की कमी भी नहीं है और युवाओं में सेना में भर्ती होने की उत्साही सोच है। उन्होंने कहा कि रक्षा अनुसंधान के छोटे केंद्र खोलने,आर्मी अधिकारियों के रिहायश, प्रशिक्षण के लिए उम्दा स्थान है क्योंकि उस क्षेत्र से राजस्थान, पंजाब जैसे राज्यों के साथ लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा भी काफी नजदीक है। सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने जल्द ही सांसद द्वारा बताए गए क्षेत्रों में पहुंच कर इस मामले पर कदम उठाने का आश्वासन दिया तथा सैन्य बाहुल भिवानी जिले में सैनिकों, पूर्व सैनिकों को चिकित्सा सहित अन्य सुविधाओं के विस्तार व दादरी के भर्ती केन्द्र को और ज्यादा विकसित करने पर त्वरित कदम उठाने का प्रारुप तैयार किया गया।

By Jagran