संवाद सहयोगी, बाढडा :

कस्बे के राजकीय महिला कालेज में शुक्रवार को प्राचार्या डा. सुनीता यादव की अध्यक्षता में महाविद्यालय का द्वितीय दीक्षांत समारोह मनाया गया। इसमें मुख्य अतिथि के तौर पर दीनबंधु सर छोटूराम विश्वविद्यालय मुरथल उपकुलपति डा. राजेंद्र कुमार अनायक ने 150 छात्राओं को डिग्रियां भेंट की।

डा. राजेंद्र कुमार ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज की छात्राएं कल का भविष्य हैं। उनके मानसिक विकास पर ही राष्ट्र का विकास निर्भर है। मौजूदा बदलाव के दौर में समय का साथी बनने के लिए हर समय ज्ञान पाने के लिए प्रयत्नशील रहना जरूरी है। उच्च लक्ष्य निर्धारित कर सफलता की ऊंची सीढि़यां चढ़ने तथा जीवन में बुलंदियों को छूने के लिए कड़ी मेहनत करें।

प्राचार्या डा. सुनीता यादव ने कहा कि महाविद्यालय छात्राओं को उच्च संस्कार युक्त शिक्षा देने में अग्रणी है। छात्राएं भी अपनी मेहनत से शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रही हैं। शिक्षा एवं खेल मानव जीवन का अभिन्न अंग है। कालेज की छात्राओं ने सांस्कृतिक, खेल व अन्य स्पर्धाओं में बेहतर प्रदर्शन कर कालेज व क्षेत्र का नाम रोशन किया है।

समारोह में छात्राओं ने हरियाणवी सांस्कृतिक पेश किए। कार्यक्रम में प्रो. डा. विजय कुमार, डा. पवन शर्मा, अतरसिंह यादव, डा. सूबेसिंह, परमजीत श्योराण, डा. उमेद कुमार, डा. अनिता, डा. मीना, प्रो. शम्मी लाज, प्रो. यशवंती, डा. मनीषा लाठर, डा. पूनम, डा. कमलेश, डा. सोनू भारद्वाज, डा. तस्वीर सिंह,प्रो. आनंद, डा. गरीमा, प्रो. प्रियंका, छात्रा परिषद अध्यक्ष प्रगति शर्मा, नीलम इत्यादि मौजूद थे।

Posted By: Jagran