पुनीत शर्मा, चरखी दादरी: बिजली बोर्ड की सौभाग्य योजना भी जिला दादरी के हजारों लोगों के घरों को रोशनी नहीं ला पाई है। जबकि सरकार द्वारा दावा किया जाता रहा है कि योजना के तहत प्रत्येक ऐसे घर को बिजली कनेक्शन दिया जाएगा, जिसमें अभी तक बिजली का कनेक्शन नहीं लिया जा सका है। आंकड़ों पर गौर करें तो अभी तक जिले में 26 हजार से अधिक ऐसे घर हैं जिनमें बिजली कनेक्शन ही नहीं हैं। ऐसे लोग या तो बिजली प्रयोग ही नहीं कर रहे हैं या फिर चोरी से बिजली का प्रयोग कर विभाग को नुकसान पहुंचा रहे हैं। प्रत्येक घर में बिजली की रोशनी पहुंचाने के लिए केन्द्र सरकार ने सौभाग्य योजना का शुभारंभ किया था। योजना के तहत ऐसे घरों में बिजली पहुंचाई जानी थी, जहां पर अभी तक कनेक्शन नहीं लिया गया या बिना कनेक्शन बिजली का प्रयोग किया जा रहा है। बिजली बोर्ड के अनुसार जिले में कुल एक लाख 46 हजार 65 घर हैं। जिनमें से एक लाख 20 हजार 92 घरों में बिजली का कनेक्शन पहले से ही है, जबकि 26 हजार 73 घरों में बिजली का कोई कनेक्शन नहीं है। इनमें से अधिकतर घरों में बिजली का प्रयोग चोरी से किया जा रहा है। इससे बिजली बोर्ड को लाखों रुपये प्रति वर्ष का नुकसान झेलना पड़ रहा है। बिना बिजली कनेक्शन वाले घरों में बिजली की रोशनी पहुंचाने के लिए सरकार ने सौभाग्य योजना शुरू की थी, लेकिन योजना भी अभी तक जिले में कोई खास बदलाव नहीं ला सकी है। बड़ी संख्या में जिले के लोगों को अभी तक सौभाग्य योजना के बारे में जानकारी ही नहीं है। ऐसे में विभाग की यह योजना फिलहाल अपने मकसदों खरी उतरती दिखाई नहीं दे रही है। --क्या है सौभाग्य योजना

बिजली बोर्ड द्वारा शुरू की गई सौभाग्य योजना के तहत बीपीएल कार्ड धारकों को मुफ्त में कनेक्शन जारी किए जाने थे। साथ ही बीपीएल की श्रेणी से बाहर ऐसे लोग जो एक साथ कनेक्शन फीस जमा नहीं कर सकते हैं, उन्हें आसान किस्तों में फीस जमा करने की सुविधा दी जानी थी। योजना के तहत कनेक्शन जारी करने के दौरान उपभोक्ता को मीटर, केबल, एलईडी लाइट, एमसीबी, बोर्ड समेत अन्य सामान भी दिया जाना था। --शहर, देहात से मिली कुल आठ फाइलें शहर और देहात में यूं तो सैकड़ों की संख्या में घरों में बिजली कनेक्शन नहीं हैं, लेकिन बिजली विभाग के शहर खंड में सौभाग्य योजना के तहत केवल आठ कनेक्शन के लिए आवेदन मिले हैं। हालांकि इन आवेदनों पर भी अभी तक कनेक्शन जारी नहीं किए जा सके हैं। जबकि शहर खंड के शहरी क्षेत्र में बिजली बोर्ड के कुल 16 हजार 584 तथा देहात क्षेत्र के 8509 उपभोक्ता हैं। --सभी घरों में रोशनी का प्रयास : एक्सईएन बिजली बोर्ड के एक्सईएन ओमवीर ने बताया कि वह अभी मी¨टग में जा रहे हैं। सौभाग्य योजना का लाभ अधिक से अधिक लोगों को देने की कोशिश की जा रही है, जिससे सभी घरों में बिजली की रोशनी हो सके।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस