जागरण संवाददाता, भिवानी : उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य की अध्यक्षता में वीरवार को लघु सचिवालय परिसर स्थित डीआरडीए सभागार में जल शक्ति अभियान की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। बैठक में उपायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे उनको दिए गए टारगेट निर्धारित समय में पूरा करें। उन्होंने कहा कि जल शक्ति अभियान में शामिल जल संचयन के स्त्रोत पुराने तालाबों, कुओं व टैंक आदि का जीर्णोद्धार करने के साथ-साथ अधिक से अधिक पौधारोपण भी करें।

उपायुक्त ने कहा कि जल शक्ति अभियान के तहत पानी की बर्बादी को रोकना है और बारिश के पानी का संचय करना है। उन्होंने कहा कि इसके लिए लोगों को जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि जल शक्ति अभियान के तहत कृषि विभाग, शिक्षा विभाग, मौलिक शिक्षा, पंचायत विभाग, पंचायती राज, लोक निर्माण विभाग, स्थानीय नगर निकाय, भू-संरक्षण, वन विभाग, जनस्वास्थ्य विभाग, सिचाई विभाग आदि प्रमुख विभागों को रेन वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम व सोकपिट बनाने के लिए टारगेट दिए गए हैं, जिनको निर्धारित समय में पूरा करना है। उन्होंने कहा कि सरकारी इमारतों में रेन वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम बनाना जरूरी है।

उन्होंने शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सरकारी स्कूलों के साथ निजी स्कूलों में रेन वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम बनाना सुनिश्चित करें। इस दौरान विभागों के अधिकारियों ने उपायुक्त को बताया कि रेन वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम व सोकपिट बनाने का कार्य किया जा रहा है। शनिवार को हुए बैठक में डीएफओ विपिन कुमार, जिला शिक्षा अधिकारी अजीत सिंह श्योराण, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी रामअवतार शर्मा, डीआइओ पंकज बजाज सहित विभिन्न विभाग के अधिरीगण मौजूद रहे।

Edited By: Jagran