संवाद सहयोगी, बवानीखेड़ा : बीके वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में विद्यारंभ संस्कार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती मां की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलन कर किया। इस मौके पर सांस्कृतिक एवं नृत्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। नर्सरी कक्षा के विद्यार्थियों ने ओ माई फ्रेंड गणेशा' व केजी कक्षा के विद्यार्थियों ने गानों पर नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी। केजी कक्षा से वर्षा श्लोक उच्चारण किया तथा उसका अर्थ भी बताया । विभिन्न विधाओं में धमाकेदार व शानदार प्रदर्शन के माध्यम से कार्यक्रम में उपस्थित सभी जन का मन मोह लिया। समिति अध्यक्षा सरिता शर्मा ने बताया विद्यार्थियों पर विद्यारंभ संस्कार से ज्ञान की देवी मां सरस्वती की असीम अनुकंपा बनी रहती है। इसके साथ-साथ विद्यार्थी अपने जीवन में शिक्षा के साथ-साथ अन्य क्षेत्रों में भी उपलब्धियां हासिल करता है। समाज सेवी सुभाष शर्मा ने नवागंतुक विद्यार्थियों को आशीर्वाद स्वरुप वचनों में कहा कि विद्यार्थियों की बुनियाद को पक्का करने के लिए उनका मानसिक व शारीरिक विकास के साथ-साथ सर्वांगीण विकास का पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि बच्चों के संस्कार ही सर्वोपरि संपत्ति है। प्राचार्य विजय जांगड़ा ने सभी विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि देश के भविष्य का निर्माण कक्षाओं में होता है। हम हमारे विद्यालय में हर एक बच्चे तक पहुँचाने की कौशिश करते है तथा इस कार्य में अभिभावकों को भी भागीदार बनाते हैं। इस मौके पर प्रबंधक समिति अध्यक्षा सरिता शर्मा, सचिव योगेश शर्मा, जोगेंद्र जांगड़ा, योगेन्द्र सिंह, कार्यक्रम का संचालन मंजू मलिक प्राइमरी कोऑर्डिनेटर के मार्गदर्शन में हुआ । जिसमें मंच संचालन पूजा रानी व रीना जाखड़ ने किया ।

Edited By: Jagran