जागरण संवाददाता, भिवानी : खुले में शौच करने वालों के फोटो सार्वजनिक किए जाएंगे। यहीं नहीं, जो पंचायत संपूर्ण रूप से शौचमुक्त अभियान में सहयोग नहीं करेंगी, उनके गांव में विकास कार्यो पर रोक लगा दी जाएगी। जिन घरों में शौचालय नहीं होंगे, उनके राशन कार्ड पर सरकारी राशन भी नहीं दिया जाएगा। इसके विपरीत संपूर्णरूप से शौचमुक्त करने वाली ग्राम पंचायतों को जिला ग्रामीण विकास अभिकरण सम्मानित करेगा। इसके साथ ही खुले में शौचमुक्त गांवों में विकास के लिए अतिरिक्त धनराशि दी जाएगी, जिससे कि इन गांवों में विकास कार्यों को और अधिक गति मिलेगी। इसके साथ ही सितंबर महीने तक अपने घरों में शौचालयों का निर्माण नहीं करवाने वालों का राशन वितरण रोका जाएगा, ताकि वे अपने मकानों में शौचालयों का निर्माण करवाएं। इसके लिए ग्रामीण विकास अभिकरण ने पूरी योजना तैयार कर ली है। यह जानकारी अतिरिक्त उपायुक्त धीरेंद्र खडगटा ने शुक्रवार को डीआरडीए हाल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी। उन्होंने बताया कि संपूर्ण स्वच्छता को जन आंदोलन का रूप दिया जाएगा, जिसमें सभी की भागीदारी व सहयोग जरूरी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच के अनुरूप प्रदेश सरकार का लक्ष्य है कि वर्ष 2017 के आरंभ तक प्रदेश के सभी गांवों को खुले में शौचमुक्त बनाया जाए और इसी को लेकर जिला भिवानी में विकास अभिकरण प्रयासरत है। उन्होंने बताया कि विशेषकर ग्रामीण अंचल में स्वच्छता एवं खुले में शौचमुक्त के प्रति जागरूकता के लिए अभिकरण द्वारा सितंबर माह के प्रथम सप्ताह से जिलेभर में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा, जिसमें नुक्कड़ नाटकों का भी आयोजन होगा। उन्होंने बताया कि अभी तक 26 पंचायतों को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया जा चुका है। ऐसी 27 पंचायतें हैं, जिन्होंने खुद को खुले में शौच से मुक्त किया है। इसके अलावा 30 जून तक 47 पंचायतें अपने गांवों में शौचालय का निर्माण करवा लेगी।

अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि सितंबर माह के दूसरे सप्ताह में अभिकरण द्वारा जिलास्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें जिलेभर उन सभी पंचायतों को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा, जो संपूर्ण रूप से खुले में शौचमुक्त होंगी। इसके अलावा वे पंचायतें भी सम्मानित होंगी होंगी, जहां पर कार्य बहुत प्रगति पर चल रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों गांवों में शौचालयों के निर्माण के लिए 15, 20 व 47 दिन का समय दिया गया था, जिसके बड़े ही सकारात्मक परिणाम निकलकर सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों को स्वच्छता के प्रति जागरूक होना चाहिए। उन्होंने कहा कि गांव स्तर पर महिलाओं, बच्चों व प्रबुद्ध नागरिकों की टीम बनाई जाएगी, जो अपने स्तर पर खुले में शौच जाने वालों को रोकेगी तथा उनको केवल शौचालय में ही शौच जाने के प्रति जागरूक करेगी। उन्होंने मीडियाकर्मियों से भी इस अभियान में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने की अपील की। उन्होंने कहा कि जागरूकता से सब कुछ संभव है। उन्होंने कहा कि यदि संविधान में हमारे को मौलिक अधिकार दिए हैं तो मौलिक क‌र्त्तव्य भी दिए हैं, जिसमें पर्यावरण को स्वच्छ रखना भी शामिल है। उन्होंने कहा कि सितंबर महीने तक यदि कोई अपने घरों में शौचालयों का निर्माण नहीं करता है तो उनका राशन वितरण नहीं होगा। राशन तभी दिया जाएगा, जब से शौचालय का निर्माण करवा लेंगे। उन्होंने कहा कि यह सब उनको अपने मकानों में शौचालयों का निर्माण करवाने के लिए ही किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में 86 फीसद घरों में शौचालय हैं और भिवानी में इनकी संख्या 87 प्रतिशत है। केवल 13 प्रतिशत शेष रहते हैं। उन्होंने कहा कि खुले मे शौच से अनेक प्रकार की बीमारियां हमें जकड़ती हैं। इस मौके पर अक्षय ऊर्जा विभाग के परियोजना अधिकारी मनोज जैन भी मौजूद थे।

ग्राम सचिवों की बैठक

अतिरिक्त उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा ने स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत शुक्रवार को जिला के खंड सिवानी, बहल तथा लोहारू के ग्राम सचिवों की बैठक बुलाई। अतिरिक्त उपायुक्त ने बैठक में जिला के तीनों खंड़ों के ग्राम सचिवों को निर्देश दिए कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रत्येक घर में शौचालय का निर्माण किया जाना है। उन्होंने कहा कि खंड सिवानी में 1862 घरों में शौचालयों का निर्माण किया जाएगा। इसी प्रकार खंड बहल में 2422 तथा खंड लोहारू में 3138 लोगों के घरों में शौचालय बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा शौचालय निर्माण के लिए 12 हजार रुपये की राशि दी जा रही है। इस अवसर पर लोहारू के एसडीएम सतबीर ¨सह जाघूं, परियोजना अधिकारी मनोज जैन, विनोद शर्मा, सतीश सहित खंड सिवानी के कोआíडनेटर आशा राम, लोहारू के वीरेन्द्र तथा बहल के कर्ण ¨सह श्योराण भी उपस्थित थे।

सीबीएलयू की प्रवक्ता व छात्राओं ने तिगड़ाना में किया स्वच्छता के प्रति जागरूक

भिवानी : सीबीएलयू की प्रवक्ता गीतिका मल्होत्रा व सोशल वर्क विषय की छात्राओं ने अतिरिक्त उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा के मार्गदर्शन में गांव तिगड़ाना में स्वच्छता के प्रति अभियान चलाया और ग्रामीणों को खुले में शौच नहीं जाने के लिए प्रेरित किया। ग्रामीणों को छात्र सुदेश कुमार, सीमा, रमन, बिजेंद्र, जितेंद्र व सीमा देवी ने स्वच्छता के प्रति जागरूक किया।