संवाद सहयोगी, बाढड़ा :

कस्बे की अनाज मंडी में गेहूं व सरसों का उठान न होना किसानों व आढ़तियों के लिए बड़ी परेशानी का सबब बनता जा रहा है। मंडी परिसर में गेहूं व सरसों के कट्टों की भरमार है। मुख्य द्वार पर सरसों से भरे ट्रैक्टरों की भारी भीड़ से जुई बाढड़ा रोड़ सारा दिन की जाम रहा। अनाज मंडी में मौजूदा समय में लगभग एक लाख क्विंटल से ज्यादा गेहूं व तीस हजार सरसों के बैग पड़े हैं। उठान कार्य धीमा होने से सब रामभरोसे हैं। मंडी परिसर में केवल गेहूं व सरसों ही नजर आ रही है। कल देर रात्रि हुई बरसात में गेहूं व सरसों पूरी तरह भीग गई। जिससे परेशान आढ़तियों ने आज गेहूं व सरसों को यहां नहीं उतारने दिया। जिससे देर शाम तक जुई रोड पर मुख्य क्रांतिकारी चौक से लेकर एक किमी ट्रैक्टर ट्रालियां खड़ी हो गई और यहां आवागमन काफी प्रभावित रहा। इस सड़क मार्ग से गुजरने वाली दैनिक यात्रियों के छोटे वाहनों के अलावा सरकारी रोडवेज बस व विद्यालयों की बसें भी जाम में फंस गई। स्थानीय पुलिस पीसीआर टीम या राइडर दस्ता नहीं पहुंचा और गर्मी के मौसम में यात्री बेहद परेशान रहे।

बाक्स :

पुख्ता नहीं खरीद व्यवस्था: आढ़ती

मंडी आढ़ती एसोसिएशन अध्यक्ष हनुमान शर्मा सहित अन्य आढ़तियों ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से अनाज खरीद व्यवस्थाएं पुख्ता नहीं की गई है। जिस कारण परेशानियां बढ़ रही हैं। उठान न होने, जगह की कमी होने और वेयर हाउस अनाज न पहुंचने के कारण किसानों की पेमेंट का समय पर भुगतान भी नहीं किया जा रहा। तहसीलदार मुकेश कुमार ने बताया कि मंडी में आवक को देखते हुए उठान कार्य के लिए ठेकेदार को सख्त चेतावनी दी गई है। एसडीएम मनीष फौगाट स्वयं मॉनिट¨रग कर रहे हैं तथा मौसम साफ रहा तो आगामी दो दिन में सरसों व गेहूं का अस्सी फीसद उठान करवा दिया जाएगा। इस मौके पर दिनेश बेरला, महेन्द्र डोहका, कृष्ण धनासरी, कैलाश भांडवा, रंजीत डालावास, कृपाल नांधा, विरेन्द्र पंचगावां, सुभाष मान, सोमबीर लाड, सतबीर बाढड़ा इत्यादि भी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस