संवाद सहयोगी, बाढड़ा: मंडी के मुख्य गेट पर किसान सभा पदाधिकारियों का धरना 12 वें दिन भी जारी रहा। दोपहर बाद प्रदेशाध्यक्ष मा. शेर¨सह की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने अनाज मंडी का दौरा कर सरसों खरीद कार्य बंद करने पर रोष प्रकट करते हुए एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। किसानों ने सरसों खरीद खरीद कार्य जल्द शुरू करने व डा. स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के तहत भाव मुहैया करवाने की मांग की। कस्बे की अनाजमंडी में सरसों खरीद का जायजा लेते हुए किसान सभा प्रदेशाध्यक्ष मा. शेर¨सह व अन्य प्रतिनिधिमंडल सदस्यों ने किसानों की समस्याएं सुनी। उन्होंने हैफेड व मार्केट कमेटी अधिकारियों से समस्याओं का समाधान करने की मांग की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों की लंबित समस्याओं के समाधान की बजाए हठ्धर्मिता अपना रही है। विपक्ष में रहते हुए कृषिक्षेत्र में डा. स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट व प्रति वर्ष पांच लाख बेरोजगारों को रोजगार देने का दम भरने वाले मौजूदा पीएम के शासनकाल में अब आज किसान को उसकी फसलों के भाव व बेरोजगार युवाओं को रोजगार के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। किसान सभा सदस्यों ने एसडीएम कार्यालय पहुंच कर अधीक्षक राजेन्द्र¨सह के माध्यम से एसडीएम को मांगों का ज्ञापन भी सौंपा तथा सरसों खरीद कार्य दोबारा शुरु करवाने की मांग की। इस मौके पर किसान सभा हलकाध्यक्ष मा. रघबीर श्योराण, उपाध्यक्ष नसीब कारीमोद, रामपाल धारणी, ब्रह्मपाल बाढड़ा, रणधीर पीटीआई, अमर¨सह बाढड़ा इत्यादि मौजूद थे।

By Jagran