फोटो-17: जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ :

योग दिवस पर कोरोना संक्रमण से स्वास्थ्य सुरक्षा के कवच को मजबूत करने के लिए मेगा वैक्सीनेशन दिवस मनाया गया। बहादुरगढ़ में कोरोना वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी डा. सुंदरम ने बताया कि मेगा वैक्सीनेशन कार्यक्रम के तहत सोमवार को शहरी क्षेत्र में 30 स्थानों पर शिविर आयोजित किए गए। इन शिविरों में एक दिन में नौ हजार 912 नागरिकों विशेषकर युवाओं ने बड़े उत्साह के साथ कोरोनारोधी डोज ली। यह अपने आप में बड़ा कार्य है। डा. सुंदरम ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में बहादुरगढ़ शहरी क्षेत्र जिले का हाट स्पाट बन गया था। उपायुक्त श्यामलाल पूनिया के दिशा-निर्देशानुसार और सीएमओ डा. संजय दहिया व वैक्सीनेशन के जिला नोडल अधिकारी डिप्टी सीएमओ डा. संजीव मलिक के मार्गदर्शन में बहादुरगढ़ के शहरी क्षेत्र में कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए वैक्सीनेशन पर विशेष फोकस किया हुआ है। शहरी क्षेत्र में कार्यरत सभी पीएचसी में प्रतिदिन कोरोनारोधी डोज दी जा रही हैं। इसके अतिरिक्त शहर व आस-पास के क्षेत्र में कार्यरत सामाजिक, धार्मिक, शैक्षणिक व औद्योगिक संस्थाओं व संस्थानों में डिमांड पर आमजन की सुविधा को ध्यान में रखते हुए वैक्सीनेशन शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। डीसी की पहल पर ड्राइव थ्रू वैक्सीनेशन अभियान भी चलाया हुआ है। डा. सुंदरम ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों के लिए कोरोना रोधी वैक्सीन फ्री लगाने के लिए मुहिम तेज की हुई है। बहादुरगढ़ के शहरी क्षेत्र में रविवार तक 56 हजार 503 डोज दी जा चुकी थी। सोमवार को मेगा वैक्सीनेशन के तहत एक दिन में नौ हजार 912 नागरिकों को वैक्सीन की डोज दी गई। जिला नोडल अधिकारी डा. संजीव मलिक ने कहा कि जिले में कोरोनारोधी वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। युवा आगे आएं और कोरोनारोधी वैक्सीन लगवाएं।

Edited By: Jagran