जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ :

इस बार आषाढ़ के बाद सावन भी खूब बरस रहा है। एक माह के अंदर करीब 400 एमएम बारिश हुई है। इतनी कम अवधि में इतनी मात्रा में बारिश पहली बार हुई है। कहां तो पूरे सीजन के दौरान ही बहादुरगढ़ में 300 एमएम तक बारिश होती थी, लेकिन इस बार तो मानसून की शुरूआत ने ही तमाम रिकार्ड तोड़ डाले हैं। आषाढ़ के बाद अब सावन भी खूब बरस रहा है। लगभग हर रोज बारिश हो रही है। सोमवार की सुबह तक भी कृषि विभाग की ओर से 16 एमएम बारिश दर्ज की गई। हालांकि दिन में भी हल्की-फुलकी बारिश हुई। इससे बाजार भी खाली-खाली रहे। दोपहर बाद बादल थोड़ी देर के लिए छंटे, लेकिन फिर से गहरा गए। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि सितंबर के आखिर तक बारिश की संभावना रहती है। इधर, माना जाता है कि सावन के बाद भादो में भी बारिश होती है। कृषि विभाग के अधिकारी डा. देवराज ओहलाण ने बताया कि जुलाई में इस बार 397.3 एमएम बारिश हुई है। यह औसत से ज्यादा है। अगस्त की शुरूआत भी बारिश से हुई है। शहर में कई कालोनियों की सड़कों पर जमा है पानी :

सेक्टर-छह, सात व दो में हालात बदतर है। यहां पर बरसाती पानी सड़कों, पार्कों व खाली प्लाटों में जमा है। इससे लोग परेशान हैं। इसकी निकासी नही हो सकी है। दिक्कत यह है कि जितनी निकासी होती है, उतना ही पानी फिर से जमा हो जाता है। अब लोगों के लिए दिक्कतें और बढ़ेंगी। इस बरसाती पानी के कारण मच्छर पनप रहे हैं। इससे डेंगू और मलेरिया का खतरा रहेगा।

Edited By: Jagran