जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़:

नगर परिषद की मतदाता सूची के ड्राफ्ट को लेकर डीसी के पास पांच अपील पहुंची हैं। पांचों में मतदाता सूची के ड्राफ्ट में भारी गड़बड़ियों का आरोप है। एसडीएम के पास दावे-आपत्ति लगाने के बाद भी जब उनका निपटान उचित ढंग से नहीं किया गया तो लोगों ने डीसी के पास अपील की है और नप की मतदाता सूची में गड़बड़ियों को समाप्त कर उसे पारदर्शी बनाने की मांग की है। डीसी ने चार अगस्त को सुनवाई के लिए नगर परिषद अधिकारियों को भी बुलाया है। डीसी मौके पर ही अपील की सुनवाई करके उनका निपटारा करेंगे। डीसी की ओर से अपील का निपटारा करने के बाद 18 अगस्त को नप की मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन कर दिया जाएगा। इसके बाद सरकार के प्रस्ताव पर राज्य चुनाव आयोग की ओर से निकाय चुनावों की तारीख घोषित की जाएगी।

नगर परिषद की मतदाता सूची का ड्राफ्ट 16 मार्च को प्रकाशित हुआ था। उस दौरान कोरोना की दूसरी लहर होने की वजह से मतदाता सूची का शेड्यूल स्थगित कर दिया गया था। बाद में 9 जुलाई को पिछली बार का ही ड्राफ्ट मान्य करके 27 जुलाई तक दावे-आपत्तियों की सुनवाई एसडीएम को करनी थी। एसडीएम को मिली दावे-आपत्तियों का निपटान निर्धारित अवधि में कर दिया लेकिन भारी संख्या में मतदाताओं व चुनाव लड़ने के इच्छुक लोगों का आरोप है कि बीएलओ की ओर से सुनवाई भी नहीं की गई और उनके दावे-आपत्तियों का निपटान कर दिया गया। मतदाताओं का आरोप है कि उनकी बिना सुनवाई किए दावे-आपत्तियों का निपटान किया गया है। वे इसको लेकर डीसी को भी अपील नहीं कर पाए। मगर वार्ड 22 से बिजेंद्र सिंह व मनीष कौशिक, वार्ड एक से रजनीश कुमार, वार्ड 11 से रवि कुमार और वार्ड 27 से गोविद सिंह ने डीसी को अपील की है, जिन पर डीसी ने अपील के लिए चार अगस्त का समय दिया है।

Edited By: Jagran