जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ :

क्षेत्र में रविवार की रात आए तूफान की वजह से चरमराई बिजली व्यवस्था का असर पेयजल सप्लाई पर ऐसा पड़ा कि मंगलवार को भी आधे से ज्यादा शहर प्यास रहा। रविवार को जिन इलाकों में पेयजल की सप्लाई होनी थी, वहां पर मंगलवार की सुबह तक लोगों को पानी नहीं मिला। एक-दो कालोनी में तो आधे घंटे बाद ही सप्लाई को रोकना पड़ा। इस तरह से दोपहर तक तो कुछ हिस्सों में ही पानी मिल पाया। पूरे शहर में पेयजल सप्लाई सुचारू होने में बुधवार शाम तक का वक्त लगेगा। कई इलाकों में मंगलवार को न बिजली थी न पानी। लोगों को नहाने और बर्तन धोने तक के लिए मोहताज होना पड़ा। दरअसल, रविवार की रात तूफान की वजह से बहादुरगढ़ मंडल में 16 ट्रांसफार्मर गिर गए थे और 100 खंभे उखड़ गए थे। इससे पूरे इलाके में बिजली सप्लाई ठप हो गई थी। दिन भर की कसरत के बाद बिजली निगम की टीमों ने सोमवार शाम तक टेंपरेरी व्यवस्था से अधिकतर इलाकों में बिजली सुचारु कर दी थी, लेकिन बाकी एरिया में रात तक काम चला था। पूरी व्यवस्था को दुरुस्त करने में मंगलवार का दिन भी लगा। इसका असर यह रहा कि सुबह के समय कई इलाकों में बिजली सप्लाई बंद रखी गई। उधर, रविवार की रात से ही जलघर से सप्लाई ठप हो गई थी। सोमवार को पूरा दिन और फिर रात भर बिजली नहीं मिली। मंगलवार की सुबह साढ़े चार बजे जलघर की बिजली चालू हुई। उसके बाद पेयजल सप्लाई चालू की गई। बिजली गुल हुई तो लोगों ने खुद बंद करवाई पानी की सप्लाई :

शहर के मुख्य जलघर में बिजली चालू होने के बाद यहां से लाइनपार क्षेत्र के बूस्टिग स्टेशन को भरा गया। उसके बाद वहां से घरों को सप्लाई दी गई। रविवार को जिन इलाकों में पानी की सप्लाई नहीं हो पाई थी, सोमवार को पहले उनकी सप्लाई चालू की गई। शहर के शास्त्री नगर में सुबह पानी चालू किया तो कुछ देर बाद ही बिजली गुल हो गई। ऐसे में लोगों ने खुद ही पानी की सप्लाई बंद करवा दी, क्योंकि बिना बिजली के घरों की छत पर रखी टंकियों में पानी नहीं पहुंच पा रहा था। सोमवार को जहां पानी नहीं पहुंचा था, उन सभी इलाकों में मंगलवार को भी पानी सप्लाई नहीं हो सकी। इधर, शहर के धर्मपुरा, माडल टाउन में तो सप्लाई हो गई, लेकिन धर्म विहार की तरफ के एरिया और कुछ बूस्टरों तक पानी शाम को नहीं पहुंचा। धर्म विहार में तो सुबह न बिजली थी और न ही एक बूंद पानी। लोगों ने खाना बनाने और बर्तन धोने के लिए भी इधर-उधर से पानी का जुगाड़ किया। बिजली न होने की वजह से यह दिक्कत आई। सोमवार को पूरा दिन और रात को भी बिजली नहीं मिली। इस कारण बूस्टिग स्टेशनों तक भी पानी नहीं पहुंचा। मंगलवार अल सुबह बिजली चालू होने के बाद सप्लाई चालू की गई। शहर में 19 जोन हैं। इसलिए सभी जगह एक दिन सप्लाई संभव नहीं थी। इसलिए बुधवार शाम तक सभी इलाकों में सप्लाई का कार्य पूरा हो सकेगा।

--दलबीर देशवाल, जेई, जन स्वास्थ्य विभाग, बहादुरगढ़

Edited By: Jagran