जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ : दैनिक रेल यात्री संघ ने रेलवे बोर्ड को पत्र लिखकर कई ट्रेनों के समय में बदलाव की माग उठाई है। संघ का तर्क है यदि कुछ ट्रेनों के समय में परिवर्तन किया जाए तो इससे यात्रियों को अधिक सुविधा होगी। साथ में विभाग की आमदनी बढ़ेगी।

दैनिक यात्री संघ के सचिव अशोक कुमार व प्रवक्ता सतपाल हाडा का कहना है कि दिल्ली-रोहतक के बीच सुबह कई ट्रेनें चलती है। इनके आगमन और प्रस्थान का फिलहाल जो समय है, उससे यात्रियों को अधिक सुविधा नहीं मिल पा रही है। यदि इनके समय में परिवर्तन कर दिया जाए तो उससे न केवल रेल विभाग को आमदनी होगी बल्कि अच्छा राजस्व भी मिलेगा। सभी यात्रियों के लिए अपने गंतव्यों तक पहुचना भी आसान होगा।

ये है यात्री संघ की माग

1. सुबह के समय दिल्ली-नई दिल्ली से गौरखधाम, कालिंदी और दिल्ली-सराय रोहिल्ला फिरोजपुर एक्सप्रेस रोहतक की तरफ प्रस्थान करती है। ये तीनों ट्रेनें एक घटे के अंदर चलती है। इसके बाद दिल्ली से फिरोजपुर पैसेंजर रवाना होती है। इसके सवा दो घटे के बाद और उसके डेढ़ घटे के बाद पैसेंजर ट्रेन दिल्ली व नई दिल्ली से रवाना होती है। यदि कालिंदी एक्सप्रेस को प्रस्थान का समय 5:55 की बजाय 6:55 कर दिया जाए तो भी यह ट्रेन बहादुरगढ़ और दिल्ली में उसी समय पर पहुचेगी जो पहले से तय है क्योंकि फिलहाल इस एक्सप्रेस ट्रेन को दिल्ली-रोहतक के बीच सवारी गाड़ी से भी ज्यादा समय दिया गया है।

2. सराय रोहिल्ला-फिरोजपुर इटरसिटी एक्सप्रेस का दिल्ली से प्रस्थान का समय 6:45 की बजाय 7:20 किया जाना चाहिए। इससे न केवल यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी होगी बल्कि रेल विभाग का राजस्व भी बढ़ेगा। साथ ही सभी सरकारी कर्मचारी भी अपने समय पर अपने कार्यालय में पहुंचेंगे। इसी तरह 64911 दिल्ली-रोहतक मेमू का समय भी 9:25 से कम करके 8:30 किया जाए।

3. सिरसा एक्सप्रेस का नई दिल्ली से प्रस्थान का समय 18:18 की बजाय 18:35 किया जाए, क्योंकि दिल्ली के आसपास सरकारी कार्यालयों में कार्य करने वाले दैनिक यात्री अपनी डयूटी करने के बाद इसमें सफर नहीं कर पाते।

4. शाम के समय रोहतक से चलने वाली गाड़ी संख्या 64932 मेमू सवारी का समय 15:50 की बजाय 16:00 बजे किया जाए, क्योंकि इस गाड़ी में अधिकतर कालेज व स्कूल के बच्चे होते है, जिन्हे इस ट्रेन में वापस लौटने के लिए एक पीरियड तक छोड़ना पड़ता है और इसके बाद की ट्रेन में उन्हे घर लौटने में काफी देर हो जाती है।

5. रोहतक से चलने वाली गाड़ी संख्या 54034 का प्रस्थान समय 17:20 की बजाय 17:30 किया जाए और सिरसा एक्सप्रेस का रोहतक से प्रस्थान 7:45 की बजाय 7:35 किया जाए। इससे कर्मचारियों को सुविधा होगी।

6. कालिंदी एक्सप्रेस जो रोहतक व भिवानी के बीच सवारी गाड़ी बनकर चलती है, इस ट्रेन को दिल्ली-रोहतक के बीच भी पैसेंजर बनाकर चलाया जाए। इसके अलावा बहादुरगढ़ में न रुकने वाली सभी ट्रेनों का यहा पर ठहराव किया जाए।