जागरण संवाददाता, अंबाला : एसडीएम सुभाष चंद्र सिहाग ने एसडी कालेज छावनी में ध्वजारोहण किया और परेड की सलामी ली। बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। एसडीएम ने युद्ध वीरांगनाओं व शहीद सैनिकों के परिजनों, स्वतंत्रता सेनानियों व उनके परिजनों को सम्मानित किया। उल्लेखनीय सेवाओं के लिए भी अधिकारियों, कर्मचारियों, खिलाड़ियों, विद्यार्थियों व अन्य लोगों को सम्मानित किया।

उन्होंने कालेज परिसर में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा तथा शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि भी भेंट की। एसडीएम ने कहा कि गणतंत्र दिवस का जश्न मनाने के साथ-साथ आत्मविश्लेषण का दिन भी है कि हम स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों के भारत को बनाने का लक्ष्य हासिल करने में कहां तक सफल हुए। मंच संचालन की भूमिका जितेंद्र कुमार व अंजू ने बखूबी निभाई। इस मौके पर संतोष सिहाग, डीएसपी राम कुमार, नायब तहसीलदार बोध राज, सुरेश कुमार, बीईओ मीना राठी, रेणू अग्रवाल, प्रिसीपल एसडी कालेज डा. राजेंद्र राणा, प्रिसीपल शैलजा आदि मौजूद रहे। फोटो नंबर :: 33

दुनिया का सबसे बड़ा और विस्तृत संविधान भारत ने अपनाया : गिरीश

बराड़ा : उपमंडल बराड़ा में एसडीएम गिरीश कुमार ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और परेड की सलामी ली। समारोह में शहीदों के परिवारजनों, स्वतंत्रता सेनानियों तथा युद्ध वीरांगनाओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। एसडीएम ने कहा कि 70 साल पहले 26 जनवरी 1950 को हमारा देश एक गणतन्त्र के रूप में उभरा था। हमने अपने देश के लिए दुनिया का सबसे बड़ा व विस्तृत संविधान अपनाया ताकि समानता, न्याय, स्वतंत्रता एवं उन्नति के समान अवसर प्रत्येक भारतीय नागरिक को प्राप्त हो सके। इस मौके पर डीएसपी बराड़ा राज सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस