जेएनएन, अंबाला शहर। सतलुज-यमुना लिंक (SYL) नहर में सोमवार को अचानक जलस्तर खतरे के निशान को पार कर गया। ऐसे में किसानों की चिंता बढ़ना लाजिमी था। बंद पड़ी SYL में पंजाब से पानी आ गया। ज्यादा पानी होने के कारण बांध टूटने का खतरा बना रहा है। बाढ़ के डर से किसान नहर पर एकत्रित हो गए, जहां उन्होंने नहर के फाटकों को खोल लिया। तब जाकर ग्रामीणों ने राहत की सांस ली।

बता दें कि अंबाला के ईस्माइलपुर के पास सतलुज यमुना लिंक नहर बनाई गई थी, लेकिन हरियाणा-पंजाब के विवाद को लेकर इसका हल नहीं हो पाया है। यह नहर कई जगहों से अभी भी कच्ची है। वैसे तो इसमें पानी नहीं आता जिस कारण यह सूखी ही रहती है, लेकिन बरसात या पीछे से किसानों द्वारा छोड़ा गया पानी इसमें आ जाता है। इसी कारण इसके फाटक ज्यादातर समय बंद ही रहते हैं। इसमें पांच फाटक लगाए हुए हैं।

2008 में आ गई थी बाढ़

इससे पहले 2008 में भी काफी बरसात हुई थी। जिस कारण नहर में क्षमता से कहीं अधिक पानी आ गया था और नहर टूट गई थी। इसके पानी से नग्गल क्षेत्र में बाढ़ आ गई थी। इसका खामियाजा क्षेत्र के कई गांवों को भुगतना पड़ा था। लोगों के घरों में तो पानी घुसने के साथ ही किसानों की फसल तक बर्बाद हो गई थी। तभी से बरसात अधिक होने पर ग्रामीणों को नहर के टूटने का डर सताता रहता है।

भारी बारिश के कई इलाकों में भरा पानी

उधर, भारी बारिश के कारण अंबाला के कई इलाकों में पानी भर गया। इस बरसात ने निकासी के उन बंदोबस्त को धो दिया जिनका दावा किया जा रहा था। लोगों के घरों से लेकर दुकानों तक में पानी घुस गया। कोई रास्ता ऐसा नहीं था जो नजर आ रहा हो। भारी बरसात से शहर के मॉडल टाउन, इंको रेलवे अंडर ब्रिज के पास तो वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगा ही बल्कि मंजी साहिब गुरुद्वारा से पहले इंडस्ट्रियल एरिया के सामने ,वीटा मिल्क प्लांट के आगे सर्विस लेन पर हुए जलभराव से जीटी रोड पर वाहन पानी में फंसे रहे।

पॉश इलाके माने जाने वाले हुडा के सेक्टरों में भी लोग बेहाल दिखे। यहां सीवरेज व्यवस्था ठप नजर आई। इसी प्रकार छावनी में बस अड्डा, हाउसिंग बोर्ड कालोनी, बीडी फ्लोर के पीछे, कालीबाड़ी मंदिर चौक, दयाल बाग, शिव प्रताप नगर, बब्याल, कच्चा बाजार, रेलवे अंडर ब्रिज, रेलवे रोड, बीईओ कार्यालय के बाहर, बस अड्डा परिसर, रामकिशन कालोनी, बोह आदि इलाकों में नाले ओवरफ्लो हुए।

जीटी रोड की सर्विस लेन पर रूकी रही वाहनों की रफ्तार

शहर के मंजी साहिब से पहले अंबाला-लुधियाना मार्ग पर इंडस्ट्रियल एरिया के सामने व जंडली की तरफ होटल अमरपाली के सामने जीटी रोड की सर्विस लेन पानी में डूबी रही। यहां से गुजरने वाले वाहनों को पानी के बीच से होकर गुजरना पड़ा। जीटी रोड के साथ साथ निकासी के लिए बनाए गए नालों की सफाई बेहाल नजर आई। इंको चौक रेलवे अंडर ब्रिज के नीचे भी जलभराव के चलते वाहनों की लाइन लग गई थी। इसी प्रकार छावनी में अंडरब्रिज के नीचे जलभराव के हालात थे।

मॉडल टाउन व विकास विहार में सीवरेज खोदाई से परेशानी

शहर के मॉडल टाउन व विकास विहार में सीवरेज व पानी के लिए सड़कें खोदी हुई हैं। इन हालात में यहां लोगों के लिए हालात जानलेवा साबित हो रहे थे। खोदाई के बाद जिन सड़कों को भरा गया था उनमें मिट्टी धंस गई और जहां खोदी हुई हैं वहां भी पानी भर गया। इसी प्रकार के हालात दूसरी कालोनियों में भी था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस