जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : भले ही अदालत परिसर में हाईटेक सीसीटीवी से चौकसी रखी जा रही है, इसी तरह वकीलों ने अपने चैंबरों में भी सीसीटीवी कैमरे लगवा रखे हैं। लेकिन वीआइपी जोन पर नजर रखने के लिए कोई भी कैमरा नहीं लगा हुआ। इसके चलते बार एसोसिएशन ने कदम उठाया है। जिसमें वीआइपी की सुरक्षा के लिए सोलह कैमरे लगाए जाएंगे। ये कैमरे वाहनों चोरियों पर तो अंकुश लगाने में सार्थक होंगे ही साथ में असामाजिक तत्वों को रोकने में भी सहायक होंगे।

अदालत में केस की तारीखों के चलते और वीआइपी जोन में कई कार्यालय होने के चलते हजारों लोग रोजाना पहुंचते हैं। अदालत परिसर में नौ के करीब तो एडवोकेट हैं जो प्रैक्टिस कर रहे हैं। जो ज्यादातर अपने वाहन लेकर पहुंचते हैं। वैसे तो वाहन पार्किंग की व्यवस्था है जिसमें वकीलों के लिए अलग से पार्किंग की व्यवस्था है लेकिन उसके बावजूद सड़कों पर वाहन खड़े करने पड़ रहे हैं और इसका शातिर फायदा उठा रहे हैं। वीआइपी जोन से वाहनों की चोरियों हो रही थी। इसके साथ ही इस जोन में असामाजिक तत्व भी घूमते रहते हैं। जिससे लोगों की जान पर खतरा बना रहता है। वकीलों के चैंबरों में भी मारपीट के मामले हो चुके हैं। इन सब को देखते हुए ही बार एसोसिएशन की ओर से 16 सीसीटीवी लगाए जाने की प्रक्रिया शुरू की है। इसके साथ ही बार एसोसिएशन इस क्षेत्र को सुरक्षित बनाने के लिए दीवार बनाने की भी तैयारी कर रहा है। ताकि इसमें प्रवेश प्रवेश करने का एक ही रास्ता हो। कोई भी आपराधिक व्यक्ति वारदात को अंजाम देकर फरार न हो सके।

ये कार्यालय है वीपीओ जोन में

वीआइपी जोन में अदालत, डीसी कार्यालय, एडीसी कार्यालय, डीडीपीओ, एसडीएम कार्यालय, तहसील, ऑब्जर्वेशन होम, एग्रीकल्चर डिपोर्टमेंट, सदर थाना और वकीलों के चैंबर हैं।

एंट्री के रास्तों पर लगेंगे कैमरे

थाना के सामने से आने वाले रास्ते से ही अदालत में प्रवेश होता है। एक थाने के साइड से भी प्रवेश होता है, लेकिन इस रास्ते को कम ही इस्तेमाल किया जाता है। इस कारण इस चौक पर कैमरे लगाए जाएंगे। इसके अलावा बिजली दफ्तर और बीडीपीओ दफ्तर की ओर से भी एंट्री होती है। एंट्री प्वाइंट को ध्यान में रखकर ही सीसीटीवी लगाए जाएंगे।

फोटो - 31

वर्जन

वकीलों समेत इस क्षेत्र में आने वाले लोगों की सुरक्षा को लेकर कदम उठाया जा रहा है। इसके तहत 16 कैमरे लगाए जाएंगे। जो इस क्षेत्र की गतिविधियों पर नजर रखेंगे। इस क्षेत्र में प्रवेश और निकासी द्वार पर खासकर नजर रहेगी। यदि कोई भी असामाजिक तत्व वारदात को अंजाम देता है तो इन कैमरों से नहीं बच पाएगा।

रोहित जैन, बार एसोसिएशन प्रधान, अंबाला

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप