जागरण संवाददाता, अंबाला : अंबाला कैंट की अनाज मंडी में धान की बंपर आवक हुई है। अब तक करीब ढाई लाख क्विंटल धान की आवक हो चुकी है, जबकि इस में से दो लाख तीस हजार क्विटल धान की खरीद हो चुकी है। दूसरी ओर दावा है कि 90 फीसद लिफ्टिग हो चुकी है। दो दिनों से मौसम खराब है, जबकि मंडी में बड़ी लापरवाही देखने को मिली है। मंडी में कई जगहों पर धान से भरी बोरियां खुले आसमान के नीचे पड़ी रही। यह गनीमत रही कि तेज बारिश नहीं हुई अन्यथा यह अनाज भीग जाता। दूसरी ओर मंडी में गंदगी के ढेर ले हैं, जबकि सफाई के लिए मार्केट कमेटी की ओर से ठेका भी दिया गया है। पानी निकासी के लिए बनी नालियों में गंदगी का आलम है।

-----------

यह दिखी स्थिति

मंडी में प्रवेश करते ही देखा कि बोरियों के कई ढेरों को तिरपाल से ढका हुआ था, जबकि एक गेट को बंद किया गया है। बताया जाता है कि रविवार को मंडी में एंट्री करना मुश्किल था, जबकि सोमवार को स्थिति में बदलाव देखा गया है। लेकिन जैसे-जैसे मंडी में आगे बढ़ते रहे, तो अव्यवस्थाएं दिखाई देती रहीं। कई जगहों पर धान की बोरियों को खुले में ही रखा गया था, जबकि हल्की बूंदाबांदी होकर हटी थी और आसमान में बादल छाये हुए थे। इसी तरह नालियों में धान सफाई से निकली गंदगी फंसी रहीं, जिससे पानी निकासी अवरुद्ध होती रही। हालांकि सफाई का ठेका दिया गया है, लेकिन बावजूद इसके सफाई नियमित रूप से नहीं हो रही।

-----------

धान की लिफ्टिग तेजी से हो रही है, जबकि सफाई के लिए भी ठेकेदार को कहा गया है। धान बचाने के लिए उसे ढका गया है। यदि कहीं नहीं ढका गया, तो उसे चेक करवाएंगे।

- नीरज भारद्वाज, सचिव, मार्केट कमेटी अंबाला कैंट

Edited By: Jagran