मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

फोटो : 71 से 75: कृपया, देर रात नेट पर जारी करें

जागरण संवाददाता, अंबाला : चोरियों की बढ़ती वारदात से अंबाला में दहशत का माहौल है। यहां दिनदहाड़े वाहन और घरों में चोरी की वारदातें होने लगीं हैं। पुलिस एक मामला दर्ज कर किसी नतीजे पर भी नहीं पहुंचती कि दूसरी वारदात हो जाती है। संदेह के आधार पर अंबाला छावनी की डेहा कॉलोनी में पुलिस ने शुक्रवार सुबह 5 से 8 बजे तक सर्च अभियान चलाया।

संवेदनशील इलाका होने कारण पुलिस पूरी तैयारी से आइ और घरों में खड़े 57 दो पहिया वाहनों को जब्त कर लिया। इस सर्च अभियान में करीब 60 पुलिसकर्मी, सीआइए वन और टू भी शामिल थे। पुलिस को संदेह है कि चोरी के वाहन यहां मिलेंगे। पुलिस वाहनों को थाने ले गई। इस पर थाने में लोगों को तांता लग गया। इस पर पुलिस ने कहा कि वाहनों की रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी) दिखाओ और ले जाएं। देर शाम तक लोगों का थाने में आना-जाना लगा रहा, खुद को वाहन मालिक बताकर कुछ लोगों ने दस्तावेज दिखाए लेकिन पुलिस संतुष्ट नहीं हुई। पुलिस मोटरसाइकिल के इंजन और चेसिस नंबर का मिलान कर रही है। वाहनों में रस्सी बांध लेकर पहुंचे थाने

जिन दोपहिया वाहन की चॉबी नहीं थी उनको पुलिस के राइडर अपने दोपहिया वाहन के पीछे बांध कर सदर थाने में लेकर पहुंचे। पुलिस की टीम महंगी बाइकें देखकर हैरान रह गई। महंगी बाइक के दस्तावेज भी अपनी सदर थाने में पेश नहीं किए गए हैं। दूसरी तरफ जिन वाहनों के कागजात नहीं है ऐसे वाहनों को छुड़वाने के लिए बिचौलिये सिफारिशें लगाने में जुट गए हैं। फ्लैग मार्च भी किया

सुबह 5 से 8 बजे तक सदर थाना पुलिस ने फ्लैग मार्च भी हाउसिग बोर्ड कॉलोनी में निकाला। पुलिस की टीम सभी सड़कों से होकर गुजरी। सुबह-सुबह भारी मात्रा में पुलिस को देख कर आसपास के लोगों में भी हड़कंप मच गया। हाउसिग बोर्ड में रहने वाले लोगों ने छतों पर चढ़कर पुलिस कार्रवाई को देखा। डेहा कालोनी में भी लोग पुलिस की कार्रवाई देख हैरत में पड़ गए। डेहा कालोनी में छापामारी से परहेज करती पुलिस

बता दें डेहा कालोनी में छापामारी से पुलिस भी परहेज करती है। यहां पर पहले भी छापामारी हुई तो कई बार पुलिस को बैरंग लौटना पड़ा। यहां पर छापामारी टीम पर पथराव तक हो चुके हैं। ऐसे में पुलिस के इस अभियान की लोग सराहना भी कर रहे हैं। सर्च अभियान में 57 मोटरसाइकिल घरों से जब्त किए गए हैं। हर वाहन मालिक को उसके दस्तावेज थाने में आकर पेश करने को कहा गया है, कुछ ने आरसी दिखाई है। उसी आरसी के आधार पर वाहन की पूरी पड़ताल होगी। जो भी सामने आएगा उसी मुताबिक कार्रवाई होगी।

- नरेंद्र सिंह, प्रभारी, पुलिस थाना छावनी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप