जागरण संवाददाता, अंबाला : कोरोना संक्रमण का असर अंबाला छावनी के विकास प्रोजेक्टों पर भी पड़ने लगा है। अनलॉक शुरू होने के बाद नगर परिषद की ओर से करोड़ों के विकास कार्य तेजी से कराए जा रहे थे, मगर अब एक बार फिर से संक्रमण का केस बढ़ता जा रहा है। जून-जुलाई तक जो बड़े प्रोजेक्ट पूरे होने थे वो अब समय से पूरे नहीं हो सकेंगे। क्योंकि इनको पूरा करने के लिए छह माह का समय और बढ़ा दिया गया है। लोगों को इन विकास कार्यो के पूरा होने के लिए अब छह माह का और इंतजार करना होगा।

नगर परिषद के अधिकारियों का कहना है कि कोरोना वायरस के चलते विकास प्रोजेक्ट का निर्माण पूरा करने का समय छह माह के लिए आगे बढ़ा दिया गया है। कोरोना संक्रमण के चलते ठेकेदार के पास लेबर की भी कमी है। ऐसे में काम प्रभावित होने लगा है।

अंबाला छावनी में मल्टीलेवल पार्किंग का काम जुलाई में पूरा होना था। करीब 75 फीसद काम पूरा हो चुका है। इस पार्किंग के निर्माण के बाद लोगों को जाम की समस्या से निजात मिलेगी। अब कोरोना संक्रमण के एक बार फिर से रौद्र रूप धारण करने के कारण मजदूरों की कमी होने लगी है। ऐसे में निर्माण कार्य धीमा पड़ गया है। इसलिए इस प्रोजेक्ट के निर्माण अवधि को छह माह के लिए बढ़ा दिया गया है।

--------------- सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

नगर परिषद की ओर से बब्याल में बनाए जा रहे सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का काम जून में पूरा होना था, मगर यह प्रोजेक्ट भी छह माह के लिए आगे बढ़ गया है। क्योंकि ठेकेदार के पास लेबर की कमी है।

--------------- गुड़गुड़िया नाले का निर्माण कार्य भी रुका

गुड़गुडि़या नाले का निर्माण कार्य भी कोरोना वायरस की वजह से रुक गया है। नाले को पक्का करने का काम किया जा रहा है। नाला बन जाने से पानी की निकासी से लोगों को राहत मिलेगी। यह प्रोजेक्ट मई में पूरा होना है, लेकिन अब अक्टूबर में यह प्रोजेक्ट पूरा हो सकेगा।

------------ कोरोना के चलते विकास कार्य भी धीमे पड़ गए है। ठेकेदार के पास लेबर की कमी है। ऐसे में विकास प्रोजेक्ट का समय 6 माह के लिए आगे बढ़ा दिया गया है। जो प्रोजेक्ट जून-जुलाई में पूरे होने थे। अब वह 6 माह बाद पूरे हो सकेगे।

हरीश शर्मा, एमई, नगर परिषद

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप