जागरण संवाददाता, अंबाला: रेलवे चाइल्ड लाइन से दोस्ती सप्ताह के अंतर्गत जागरूकता कार्यक्रम चलाया। रेलवे चाइल्ड लाइन स्टाफ द्वारा जीआरपी एसएचओ रामबच्चन, चीफ टिकट इंस्पेक्टर स्टॉफ, रेलवे पुलिस फोर्स, कुली, यात्रियों, ऑटो, ड्राइवर, टैक्सी ड्राइवर और विद्यार्थियों को दोस्ती बैंड बांधकर चाइल्डलाइन का दोस्त बनाया गया। वहीं, पुणे चाइल्ड हेल्प डेस्क के बारे में विस्तार से बताया गया कि यह किस प्रकार से कार्य करता है, सभी ने भविष्य में रेलवे चाइल्ड लाइन की मदद करने के बारे में कहा। टीम सदस्यों ने कहा कि उन्हें कोई अनाथ बच्चा, बिछड़ा हुआ बच्चा, शोषित बच्चा, भीख मांगता हुआ बच्चा, घर से भागा हुआ बच्चा और बाल मजदूरी करता बच्चा मिलता है तो वह तुरंत ही 1098 पर कॉल करें और जानकारी दें। रेलवे स्टाफ द्वारा यात्रियों से 1098 पर कॉल करवाई गई ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि 1098 सही तरीके से काम कर रहा है या नहीं। समाप्ति पर रिफेंशमेंट बांटी गई। इस मौके पर रेलवे चाइल्ड हेल्प डेस्क से कोआर्डिनेटर राकेश चोपड़ा, काउंसलर सुशीला कुमारी, टीम सदस्य मोहित सिंह, सुनीता देवी आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस