संवाद सहयोगी, नारायणगढ़ : लाहा प्राइमरी एग्रीकल्चर कोआपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड के शुक्रवार को होने वाला प्रधान व उपप्रधान पद का चुनाव फिलहाल टल गया है। चुनाव टलने का कारण पीठासीन अधिकारी का खुद का ही हाजिर न होना बताया जा रहा है। मामला राजनैतिक दबाव से जुड़ा हुआ देखा जा रहा है। हालांकि प्रबंधक कमेटी के 10 निर्वाचित सदस्यों में से 9 निर्धारित समय पर बैंक पहुंच चुके थे।

बताते हैं कि सहायक रजिस्ट्रार सहकारी समितियां नारायणगढ़ ने 30 जुलाई 2018 को निरीक्षक सहकारी समितियां नारायणगढ़ को लाहा पैक्स की प्रबंधक कमेटी के सदस्यों में से पदाधिकारी चुनने के लिए पीठासीन अधिकारी नियुक्त किया था। इसके उपरांत पीठासीन अधिकारी ने प्रधान व उपप्रधान का चुनाव कराने के लिए 6 अगस्त को लिखित एजेंडा जारी कर समिति के सभी निर्वाचित सदस्यों को 24 अगस्त 2018 को समय 11 बजे पैक्स कार्यालय में हाजिर होने के लिए कहा था, समिति के 10 में से 9 निर्वाचित सदस्य जगन्नाथ, राम कुमार, जसविंद्र संह, रामपाल, राजेंद्र ¨सह, असलम, उषा देवी, पूनम कुमारी व उषा रानी निर्धारित समय से पहले ही समिति कार्यालय पहुंच गए थे। लेकिन घंटों इंतजार के बावजूद चुनाव करवाने वाले पीठासीन अधिकारी ही नहीं पहुंचे, जिसके चलते चुनावी बैठक स्थगित करनी पड़ी। चुनावी बैठक स्थगित होने से व पीठासीन अधिकारी द्वारा न आने की सूचना पहले न देने से प्रबंधक कमेटी के सदस्यों में रोष देखा गया। कुछेक सदस्यों का कहना था कि यह राजनैतिक दबाव के चलते हुआ है, क्योंकि इस चुनाव में निर्वाचित सदस्यों का बहुमत सत्ता पक्ष से जुड़े प्रधान पद के दावेदार के खिलाफ था, जिसके चलते बैठक स्थगित हुई।

Posted By: Jagran