जागरण संवाददाता, अंबाला शहर

राजकीय आइटीआइ अंबाला शहर में कार्यरत महिला अप्रेंटिस ने आइटीआइ में जमकर हंगामा किया। अप्रेंटिस करीब एक घंटे तक ¨प्रसिपल व अन्य स्टाफ से उलझती रही। इसके बाद ¨प्रसिपल ने उच्चाधिकारियों के संज्ञान में मामला डालकर उसे आइटीआइ से निकालने का लेटर जारी कर दिया। लेकिन अप्रेंटिस इस लेटर को मानने के लिए तैयार नहीं थी। महिला अप्रेंटिस का तर्क था कि ¨प्रसिपल उसे हटा नहीं सकते। वह नियमित रूप से कक्षाएं लेती हैं।

इसके अलावा आइटीआइ में ¨प्रसिपल द्वारा बच्चों से काम कराने के आरोप भी अप्रेंटिस ने लगा दिए। मामले ने तूल पकड़ लिया और अप्रेंटिस ने ¨प्रसिपल को उनके कार्यालय में ही खूब सुनाई। ¨प्रसिपल ने समझदारी दिखाते हुए एसपी को लेटर भेजकर मदद मांगी। इसके बाद एसपी ने आइटीआइ में दुर्गा शक्ति वाहिनी टीम को भेजा। टीम के जाने के बाद अप्रेंटिस ने संस्थान से निकलना ही मुनासिब समझा। इस तरह करीब एक घंटे बाद मामला शांत हुआ। हालांकि महिला अप्रेंटिस ने भी बाद में एसपी कार्यालय में जाकर शिकायत दी, जिसे एसपी ने एसएचओ को मार्क कर दिया।

-----------------

क्या है विवाद

दरअसल आइटीआइ सहित हर संस्थान में अप्रेंटिस एक्ट के तहत कुल सीटों की 10 फीसदों सीटों पर अप्रेंटिस रखे जाने अनिवार्य हैं। आइटीआइ में भी इसी तरह अप्रेंटिस रखे गए हैं। नियमानुसार यह अप्रेंटिस विभागों में प्रशिक्षण लेते हैं। लेकिन यह अप्रेंटिस कक्षाएं ले रही थी। कोई भी अप्रेंटिस कक्षा नहीं ले सकता। ¨प्रसिपल का कहना है कि अप्रेंटिस नियमित स्टाफ से दु‌र्व्यवहार करने लगी थी। कई शिकायतें आ चुकी थी। बृहस्पतिवार को भी अप्रेंटिस ने जब ऐसा किया तो ¨प्रसिपल ने उसे संस्थान से हटा दिया। इसके बाद अप्रेंटिस ने ¨प्रसिपल के कार्यालय में जाकर खूब हंगामा किया। ¨प्रसिपल ने पीयून को बुलाकर उसे बाहर निकलवा दिया लेकिन अप्रेंटिस नहीं गई तो पुलिस बुलानी पड़ी।

-----------------

पूरे संस्थान में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। महिला अप्रेंटिस ने सभी स्टाफ सदस्यों के साथ दु‌र्व्यवहार किया। खुद मेरे कार्यालय में आकर मेरे साथ भी बदतमीजी की। एक महिला होने का गलत फायदा उठा रही थीं। इसीलिए मैंने एसपी से मदद मांगी ताकि कल कोई संस्थान को ही बदनाम न कर दे। इसमें एसपी साहब उचित जांच करवाएं जो भी दोषी पाया जाए उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

भूपेंद्र ¨सह, ¨प्रसिपल।

Posted By: Jagran